एक मिनट के भीतर छत्‍तीसगढ़ में शराबबंदी हो जाएगी… जनता के बीच पहुंचकर ऐसा क्‍यों बोले सीएम बघेल

0
192

दुर्ग: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शुक्रवार को भेंट मुलाकात कार्यक्रम में दुर्ग पहुंचे। जहां उन्होंने 40 करोड़ के विकास कार्यों का भूमि पूजन किया। इस भेंट मुलाकात कार्यक्रम में प्रदेश में शराबबंदी का मुद्दा एक बार फिर जोर शोर से गूंजा। जिस पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पूरे प्रदेश के अंदर 1 मिनट में शराबबंदी करने की बात करते हुए कहा कि मैं नहीं चाहता कि मेरी एक घोषणा से लोग अनुचित कदम उठाएं और जहरीली शराब पीकर मर जाए।

 

भेंट मुलाकात कार्यक्रम में महिला ने उठाया शराबबंदी का मुद्दा
दरअसल, शुक्रवार को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल अपने एक दिवसीय दौरे में भेंट मुलाकात कार्यक्रम के अंतर्गत दुर्ग पहुंचे हुए थे। वहां वह आम जनता से उनकी समस्याएं सुन रहे थे, इस बीच शराबबंदी को लेकर सीएम भूपेश बघेल से एक महिला ने सवाल किया और कहा कि शराब बंद कर दी जाए। इससे काफी नुकसान हो रहा है, व्यक्ति शराब पीकर मारपीट तो करता ही है हिंसा भी फैलाता है और पैसे की बर्बादी भी होती है शरीर भी नुकसान पहुंचा रहा है।

 

शराबबंदी को लेकर क्‍या बोले सीएम बघेल

महिला के शराबबंदी के मामले में उठाए गए सवाल को लेकर भूपेश बघेल ने कहा कि मैं शराब एक मिनट में पूरे प्रदेश में शराबबंदी कर सकता हूं, अभी आदेश करूंगा और शराब की दुकान बंद हो जाएगी, लेकिन पहले कसम खाओ कि कोई शराब ना पिए शराब पीना बंद कर दीजिए। उन्‍होंने कहा मुझे मेरी जनता से ज्यादा कीमत और पैसा शराब का नहीं हो सकता। व्यक्ति का स्वास्थ्य ज्यादा कीमती है।

सीएम बघेल ने कहा लॉकडाउन के समय में रायपुर में एक व्यक्ति सैनिटाइजर पीकर मर गया। जनता शराब पीना बंद कर दे तो शराब की दुकान अपने आप बंद हो जाएगी। सीएम भूपेश बघेल ने यह भी कहा कि गुजरात और बिहार में शराबबंदी है, लेकिन फिर भी वहां शराब मिलती है, शराबबंदी होने पर लोग जहरीली शराब पीते हैं और मर भी जाते हैं। मैं नहीं चाहता कि मेरी किसी घोषणा से लोग अनुचित कदम उठाए और जहरीली शराब पीकर मर जाएं।