Narendra Modi

12784/20 RO NO

वर्ल्ड कप-2023 में नहीं होगी भारत-पाकिस्तान की भिड़ंत? बेहद चौंकाने वाली है वजह

0
257

Asia Cup-2023 : भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट मैच होता है तो दर्शकों का हुजूम देखने को मिलता है. किसी भी देश में इन दो टीमों के बीच मुकाबला हो, बड़ी संख्या में क्रिकेट फैंस स्टेडियम पहुंचते हैं. हालांकि आगामी वनडे वर्ल्ड कप-2023 में फैंस का दिल टूट सकता है. भारत की मेजबानी में आगामी वर्ल्ड कप खेला जाना है और पीसीबी चेयरमैन नजम सेठी ने फिर से धमकी दी है कि वह इस टूर्नामेंट के लिए अपनी टीम पड़ोसी मुल्क नहीं भेजेंगे.

पीसीबी चेयरमैन ने दी धमकी!

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के चेयरमैन नजम सेठी ने एक बार फिर से धमकी दी है. खबरों के अनुसार, बीसीसीआई सचिव जय शाह को नजम सेठी ने बताया कि उनका देश एशिया कप की मेजबानी करना चाहता है और अगर टूर्नामेंट को कहीं और कराया जाता है तो पाकिस्तान अपनी टीम भारत में होने वाले वनडे वर्ल्ड कप के लिए नहीं भेजेगा. सेठी की यह टिप्पणी अपने पूर्ववर्ती रमीज राजा की तरह ही है जिन्होंने कहा था कि अगर दोनों देशों के क्रिकेट बोर्ड के बीच एशिया कप का मुद्दा नहीं निपटाया जाता है तो पाकिस्तान इस साल के अंत में भारत में होने वाले 50 ओवर के वर्ल्ड कप से बहिष्कार कर सकता है.

एशिया कप की मेजबानी को लेकर बवाल

एशिया कप मेजबानी का अधिकार शुरुआत में पाकिस्तान को दिया गया था. इसे सितंबर-2023 में कराया जाना है लेकिन एशियाई क्रिकेट परिषद (एसीसी) के चेयरमैन शाह ने पिछले साल अक्टूबर में घोषणा की कि राजनीतिक तनाव के कारण भारत इस महाद्वीपीय टूर्नामेंट के लिए पाकिस्तान का दौरा नहीं करेगा. उम्मीद है कि एसीसी एशिया कप को पाकिस्तान से हटाकर कहीं और कराएगा और मार्च में इसके वैकल्पिक स्थल पर फैसला करेगा. हालांकि पीसीबी के एक विश्वस्त सूत्र के अनुसार, शनिवार को बहरीन में हुई एसीसी कार्यकारी बोर्ड की बैठक के दौरान सेठी ने शाह को एशिया कप के बारे में पाकिस्तान का पक्ष स्पष्ट कर दिया. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान एशिया कप या 2025 में चैंपियंस ट्रॉफी के मेजबानी अधिकारों को नहीं जाने देगा.

नजम सेठी ने की पीएम शरीफ से मुलाकात

सूत्र ने कहा, ‘नजम सेठी ने शाह को अपना पक्ष बिलकुल स्पष्ट कर दिया और वह पिछले मंगलवार को प्रधानमंत्री शाहबाज शरीफ से मुलाकात के बाद बहरीन गए थे. उन्होंने बहरीन जाने से पहले इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री से चर्चा की. सेठी स्पष्ट थे कि एशिया कप कई टीमों का टूर्नामेंट है और पाकिस्तान सरकार भारतीय टीम को सुरक्षा आश्वासन देने को तैयार है. इसलिए ऐसा कोई कारण नहीं दिखता कि बीसीसीआई (भारतीय क्रिकेट बोर्ड) इस साल सितंबर में अपनी टीम पाकिस्तान नहीं भेज पाए.’

मार्च में फिर होगी बैठक

मामले की जानकारी रखने वाले सूत्रों ने कहा कि नजम सेठी के कड़े रवैये को देखते हुए फैसला लिया गया कि एसीसी मार्च में फिर बैठक करेगा. मेजबानी से जुड़े मुद्दे को आगे बढ़ाया जाएगा. सूत्र ने कहा, ‘नजम सेठी ने एसीसी सदस्यों को कहा कि अगली बैठक से पहले बीसीसीआई को अपनी सरकार से बात करनी चाहिए और अपना पक्ष स्पष्ट करे. वह एशिया कप के लिए अपनी टीम भेजेगा या नहीं, यह पता चले ताकि पाकिस्तान भी आईसीसी के साथ भारत में वर्ल्ड कप के अपने मैचों को खेलने के बारे में चर्चा कर सके.’