बारिश, रिजर्व-डे और डकवर्थ लुईस… सस्पेंस से भरे फाइनल में चेन्नई ऐसे बनी IPL चैम्पियन

0
109

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) 2023 के फाइनल मुकाबले में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) ने धमाकेदार अंदाज में जीत दर्ज की. अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में खेले गए फाइनल मुकाबले में चेन्नई ने गुजरात टाइटन्स (GT) को 5 विकेट (डकवर्थ लुईस नियम) से करारी शिकस्त दी.

यह आईपीएल फाइनल काफी उतार-चढ़ाव भरा रहा है. फैन्स को भी इस नतीजे के लिए दो दिन तक इंतजार करना पड़ा है. दरअसल, यह फाइनल 28 मई को होना था, लेकिन बारिश के कारण एक दिन के लिए टाला गया. यानी यह खिताबी मुकाबला रिजर्व-डे (29 मई) को कराया गया.

रिजर्व-डे में भी बारिश ने डाला खलल

रिजर्व-डे को भी बारिश ने खलल डाला. गुजरात ने टॉस हारकर पहले बैटिंग कर ली थी और 215 रनों का टारगेट सेट किया था. इसके बाद तेज बारिश के कारण चेन्नई की पारी काफी देर बाद हुई. बारिश के चलते मैच में 5 ओवर और टारगेट भी कम कर दिया गया. इतनी सारी बाधाएं आने के बाद भी बारिश धोनी का खेल नहीं बिगाड़ सकी. धोनी 5वां आईपीएल खिताब जीतने के अपने मिशन में कामयाब हुए हैं.

इस तरह चेन्नई ने मैच और खिताब जीता

मैच में टॉस हारकर पहले बैटिंग करते हुए गुजरात टीम ने 4 विकेट पर 214 रन बनाए थे. टीम के लिए साई सुदर्शन ने 47 गेंदों पर 96 रनों की तूफानी पारी खेली. उन्होंने 6 छक्के और 8 चौके जमाए. उनका स्ट्राइक रेट 204.25 का रहा. सुदर्शन के अलावा ऋद्धिमान साहा ने 54 औऱ शुभमन गिल ने 39 रनों की पारी खेली. चेन्नई के लिए मथीशा पथिराना ने 2 विकेट लिए.

चेन्नई टीम 215 रनों के टारगेट का पीछा करने उतरी ही थी कि पहले ही ओवर में बारिश आ गई और मैच रोकना पड़ा. इसके बाद मुकाबला जब शुरू हुआ, तो मैच 15 ओवर का कर दिया गया. साथ ही डकवर्थ लुईस नियम के तहत चेन्नई को 171 रनों का टारगेट मिला. इसके जवाब में चेन्नई टीम ने 5 विकेट गंवाकर मैच और खिताब अपने नाम कर लिया.

आखिरी दो गेंदों पर जडेजा ने ऐसे पलटा मैच

यह मैच आखिरी ओवर में जाकर काफी रोमांचक हो गया था. फैन्स की सांसें तब थम गई थीं, जब धोनी भी पहली बॉल पर गोल्डन डक के साथ आउट हो गए थे. इसके बाद आखिरी दो गेंदों पर मैच अपने रोमांच के चरम पर था, जब चेन्नई को जीत के लिए 10 रन चाहिए थे. तब क्रीज पर रवींद्र जडेजा था. उन्होंने मोहित शर्मा की बॉल पर पहले छक्का और फिर चौका लगाकर चेन्नई को फाइनल जिताया.

चेन्नई टीम 5 बार, जबकि गुजरात टीम 1 बार चैम्पियन बनी

IPL में सबसे ज्यादा 5 बार खिताब जीतने का रिकॉर्ड मुंबई इंडियंस (MI) के नाम है. रोहित शर्मा की कप्तानी में मुंबई ने ये सभी खिताब 2013, 2015, 2017, 2019, 2020 सीजन में जीते हैं. अब धोनी की कप्तानी में चेन्नई टीम ने भी 5वीं बार खिताब जीतकर मुंबई की बराबरी कर ली है. धोनी ने 2010, 2011, 2018, 2021 और 2023 सीजन में खिताब जीते हैं.

हैदराबाद फ्रेंचाइजी ने दो बार (डेक्कन चार्जर्स 2009, सनराइजर्स हैदराबाद 2016) खिताब जीता है. गौतम गंभीर की कप्तानी में कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) दो बार (2012, 2014) चैम्पियन बनी. इन तीनों टीमों के अलावा राजस्थान रॉयल्स (2008) और गुजरात टाइटन्स (2022) ने 1-1 बार खिताब जीता है.

चेन्नई ने प्लेऑफ में लगातार दूसरी बार गुजरात को हराया

मौजूदा सीजन में गुजरात ने पॉइंट्स टेबल में टॉप पर रहते हुए क्वालिफाई किया था. जबकि चेन्नई टीम दूसरे नंबर पर रही थी. ऐसे में इन दोनों टीमों के बीच ही क्वालिफायर-1 मुकाबला खेला गया था. 23 मई को हुए इस मुकाबले में चेन्नई ने 15 रनों से जीत दर्ज की थी. गुजरात के खिलाफ चेन्नई की यह पहली जीत थी. इसके बाद चेन्नई ने लगातार दूसरी बार गुजरात को हराया है. आईपीएल में दोनों टीमों के बीच अब तक 5 मैच हुए, जिसमें गुजरात ने 3 और चेन्नई ने 2 मुकाबले जीते हैं.

चेन्नई और गुजरात के बीच हेड-टु-हेड

कुल मैच: 5
गुजरात जीती: 3
चेन्नई जीती: 2

फाइनल में ये थी गुजरात-चेन्नई की प्लेइंग-11

चेन्नई सुपर किंग्स: डेवोन कॉन्वे, ऋतुराज गायकवाड़, अजिंक्य रहाणे, शिवम दुबे, मोईन अली, रवींद्र जडेजा, एमएस धोनी (कप्तान, विकेटकीपर), दीपक चाहर, तुषार देशपांडे, महेश तीक्ष्णा और मथीशा पथिराना.

गुजरात टाइटन्स: ऋद्धिमान साहा (विकेटकीपर), शुभमन गिल, साई सुदर्शन, हार्दिक पंड्या (कप्तान), विजय शंकर, डेविड मिलर, राहुल तेवतिया, राशिद खान, मोहित शर्मा, नूर अहमद और मोहम्मद शमी.