RO NO.....12737/20

देश की पहली वॉटर मेट्रो को पीएम मोदी आज दिखाएंगे हरी झंडी, इस राज्य को मिलने जा रही सौगात

0
122

25 अप्रैल यानी मंगलवार को केरल वासियों को देश की पहली वॉटर मेट्रो मिलने जा रही है. प्रधानमंत्री इस परियोजना को हरी झंडी दिखाएंगे. इस मेट्रो की खास बात है कि ये पटरी की बजाय पानी पर दौड़ेगी. 1,136.83 करोड़ रुपये की लागत से तैयार हुए इस प्रोजेक्ट में कुल 78 बोट्स और 38 टर्मिनल तैयार किए गए हैं. सरकार द्वारा शुरू की जा रही ये वॉटर मेट्रो इको फ्रेंडली होगी. ये केरल के आसपास के द्वीपों को एक साथ जोड़ेगी.

RO NO.....12737/20

इस प्रोजेक्ट के तहत 15 रूट्स पर इलेक्ट्रक बोट चलाने की प्लानिंग की गई है. यह 10 आइलैंड्स को आपस में जोड़ेंगी. ये रूट 78 किलोमीटर के दायरे में फैला हुआ है. लोगों को एक सिरे से दूसरे सिरे तक जाने के लिए परेशानी न हो, इसका भी विशेष ध्यान रखा गया है. इसकी सुविधा रोजाना सुबह 7 बजे शुरू हो जाएगी जो कि रात 8 बजे तक जारी रहेगी. जबकि पीक आवर्स के दौरान हर 15 मिनट में वॉटर मेट्रो मिलेगी.

KWM यानी कोच्चि वॉटर मेट्रो प्रोजेक्ट के लिए इलेक्ट्रिक बोट्स तैयार की गई हैं. इसके लिए खास मॉडल बनाया गया है. ये पूरी तरह से इको फ्रेंडली होगी. केरल में इस बोट के जरिए पॉल्यूशन में कमी लाने की कोशिश की जाएगी.

यात्रियों को वॉटर मेट्रो से ट्रैवल करने के लिए साप्ताहिक, मासिक और त्रैमासिक पास भी उपलब्ध कराए जाएंगे. इन पासों पर छूट का लाभ भी ले सकते हैं. 12 यात्राओं के साथ साप्ताहिक यात्रा पास की कीमत 180 रुपये है. 50 ट्रिप के साथ 30 दिनों का पास 600 रुपये का है. 90 दिनों के लिए 150 ट्रिप वाला पास 1500 रुपये में दिया जाएगा. यात्री कोच्चि वन कार्ड का उपयोग कर सकेंगे. इसके अलावा यात्री कोच्चि वन ऐप के जरिए मोबाइल क्यूआर टिकट बुक कर सकते हैं.

बता दें इस मेट्रो के पहले रूट यानी हाई कोर्ट-वायपिन पर परिचालन 26 अप्रैल सुबह 7 बजे से शुरू होगा. वहीं, दूसरे रूट वायटिला-कक्कनाड टर्मिनल पर 27 अप्रैल की सुबह 7 बजे से परिचालन शुरू किया जाएगा.

हाई कोर्ट-वाइपिन रूट के लिए सिंगल जर्नी टिकट का किराया 20 रुपये होगा. वहीं, वायटिला-कक्कानाड के बीच का किराया 30 रुपये होंगे. हाई कोर्ट वॉटर मेट्रो टर्मिनल से वाइपिन पहुंचने में 20 मिनट से भी कम का वक्त लगेगा. वहीं, व्य्त्तिला से कक्कनाड टर्मिनल तक की दूरी लगभग 25 मिनट में तय की जा सकेगी.