माइक्रोसॉफ्ट का धमाल, लेकर आया ऐसा टूल जो कई दिनों के काम सेकंड्स में कर देगा, नाम है Copilot

0
229

माइक्रोसॉफ्ट ने आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के इस्तेमाल से यूजर्स को अलग ही लेवल की सुविधा देने के लिए 365 को-पायलट नाम का नया असिस्टेंट लॉन्च किया है. इसका इस्तेमाल कर्मशियली किया जा सकता है जिससे प्रोडक्टिविटी बढ़ेगी और काम जल्दी होने के साथ ही सेफ्टी के साथ किए जा सकेंगे. मोटे तौर पर कहा जाए तो रोजमर्रा के ऑफिस के कामों में अब एक्सेल, पावर प्वॉइंट, आउटलुक वगैरह में इसका इस्तेमाल किया जा सकेगा. इन सभी में 365 को-पायलट के एआई की हेल्प से कामों को बढ़िया तरीके से और आसानी से निपटाया जा सकेगा.

कैसे मदद करेगा ऑफिस के कामों में

को-पायलट में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस के इस्तेमाल से डॉक्यूमेंट्स क्रिएट और मैनेज किए जा सकेंगे. प्रेजेंटेशन और स्प्रेडशीट बनायी जा सकेंगी और ये ईमेल्स को रिप्लाई भी करेगा. माइक्रोसॉफ्ट के सभी एप्लीकेशन जैसे वर्ल्ड, एक्सेल, पावर प्वॉइंट, आउटलुक, टीम्स, वीवा, पावर प्लेटफॉर्म आदि में ये आएगा.

चैटबोट की तरह करेगा काम

माइक्रोसॉफ्ट 365 को-पायलट जीपीटी – 4 का प्रयोग करेगा और नई बिंग चैट की तरह ही ये चैटबोट के रूप में काम करेगा. इससे यूजर्स चैटबोट इंटरफेस के इस्तेमाल से कंटेंट जेनरेट कर पाएंगे. हालांकि ये ह्यूमन माइंड और उनके द्वारा किए जा रहे कामों की बराबरी नहीं कर सकता लेकिन ओपेन एआई के मुताबिक इससे प्रोफेशनल लेवल पर परफॉर्मेंस बहुत बढ़ेगा और कई बेंचमार्क स्थापित किए जा सकेंगे.

ये प्रोडक्टिविटी को बढ़ाने के लिए माइक्रोसॉफ्ट ग्राफ और माइक्रोसॉफ्ट 365 में यूजर्स के लिए लार्ज लैंग्वेज मॉडल की शक्ति को बढ़ाता है.

बदल देगा कंप्यूटर के काम करने का तरीका

ये बिजनेसेस के लिए खास तौर पर उपयोगी होगा और अच्छे रिजल्ट कम समय में और ज्यादा सेफ्टी के साथ डिलीवर करेगा. इससे कंप्यूटर्स के काम करने के तरीके में बहुत फर्क आएगा. ये आपके साथ राइटिंग, एडिटिंग, पावर प्वॉइंट वगैरह में काम करेगा और काम जल्दी पूरा करने में मदद करेगा. को-पायलट को बाकी एप्लीकेशंस को कमांड देना आता है और ये सभी से और बढ़िया तरीके से काम करा लेगा. इसमें सेफगार्ड बिल्ट है जो सुरक्षा के बेहतर उपाय देगा.