गूगल में जल्द होगा बड़ा बदलाव, CEO सुंदर पिचाई ने किया कंफर्म

0
123

एआई चैटटूल ChatGPT अब इतना पोपुलर हो गया है कि सभी सर्च इंजन इसे अपनाने के लिए बेचैन हैं। माइक्रोसॉफ्ट ने अपने बिंज में इसका सपोर्ट दे दिया है, वहीं अब गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई ने कहा है कि गूगल सर्च इंजन में भी ChatGPT की तरह किसी एआई चैटटूल का सपोर्ट दिया जाएगा। बता दें कि माइक्रोसॉफ्ट के साथ मिलने वाले ChatGPT का सपोर्ट सिर्फ आपके सवालों का जवाब नहीं देता, बल्कि वह एआई फोटो भी बना सकता है।

Google ने भी अपने एआई चैटटूल Bard को कुछ दिन पहले लॉन्च किया है, लेकिन इसे अभी तक ChatGPT जैसी लोकप्रियता नहीं मिली, हालांकि गूगल इसे अपग्रेड करने पर काफी मेहनत कर रहा है। द वॉल स्ट्रीट जर्नल की एक रिपोर्ट के मुताबिक सुंदर पिचाई ने कहा है कि भविष्य में गूगल सर्च में आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (AI) का सपोर्ट दिया जाएगा जिसके बाद सर्च रिजल्ट और बेहतर और सटीक मिलेंगे।

 

वैसे आपकी जानकारी के लिए बता दें कि लार्ज लैंग्वेज मॉडल (LLMs) जैसे कंप्यूटर प्रोग्राम में गूगल को महारत हासिल है। इसी लैंग्वेज की मदद से ही कंप्यूटर इंसानों की नकल करते हैं। सुंदर पिचाई ने कहा है कि गूगल सर्च इंजन में LLMs का भी सपोर्ट होगा।

बता दें कि गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट को बार्ड की एक गलती से 120 अरब डॉलर यानी करीब 991 हजार 560 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था। बार्ड के गलत जवाब की वजह से कंपनी के शेयरों में 8 फीसदी से अधिक की गिरावट दर्ज की गई। दरअसल, एक विज्ञापन में बार्ड के सामने एक शख्स ने सवाल किया, “जेम्स वेब स्पेस टेलीस्कॉप की कौन सी नई खोजों के बारे में मैं अपने 9 साल के बच्चे को बता सकता हूं?” इसके बाद बार्ड जल्दी से तीन उत्तर देता है। बार्ड पहले दो उत्तर सही देता है, लेकिन इसका आखिरी उत्तर गलत था।