RO NO.....12737/20

25 साल का हुआ गूगल, जानें Backrub से दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन बनने वाले Google की कहानी

0
106

हर दिन, हर पल और हर काम की जरूरत बने सर्च इंजन गूगल (Google) ने आज, 27 सितंबर 2023 को 25 साल पूरे कर लिए हैं. अपने जन्मदिन के मौके पर गूगल ने बेहद खास डूडल (Doodle) बनाया है. जिसमें यादों की गलियों में चलते हुए 25 साल पहले गूगल का जन्म कैसे शुरू हुआ था और समय-समय पर गूगल के लोगो (Logo) में किए बदलाव के बारे में बताया गया है.

RO NO.....12737/20

Larry Page और Sergey Brin ने की थी गूगल की खोज

बता दें कि इंटरनेट सर्च इंजन के तौर पर गूगल आज दुनिया का सबसे बड़ा प्लेटफॉर्म है. व्यक्ति को जब भी किसी बारे में जानकारी लेने की जरूरत होती है तो गूगल के जरिए ही सर्च करते हैं. गूगल के पास लगभग हर सवाल का जवाब मिल जाता है. गूगल की खोज साल 1998 में सितंबर महीने में कैलिफोर्निया की स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी के दो स्टूडेंट्स Larry Page और Sergey Brin ने की थी. दोनों की मुलाकात 90 के दशक के अंत में स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के कंप्यूटर विज्ञान कार्यक्रम में हुई थी.

‘Backrub’ रखा था गूगल का नाम

इस जोड़ी ने एक बेहतर खोज इंजन का प्रोटोटाइप विकसित करने के लिए अपने हॉस्टल के कमरों से कड़ी मेहनत की. इसकी शुरुआत वास्तव में एक रिसर्च प्रोजेक्ट के तौर पर हुई थी. 27 सितंबर 1998 को, Google Inc. का आधिकारिक तौर पर जन्म हुआ. लैरी पेज और सर्गे ब्रिन ने Google.stanford.edu एड्रेस पर इंटरनेट सर्च इंजन बनाया था. लैरी पेज और सर्गी ब्रिन ने ऑफिशियली लॉन्च करने से पहले इसका नाम ‘Backrub’ रखा था. जिसे बाद में Google कर दिया गया था.

आज 25 साल हुए पूरे

1998 के बाद से अब तक बहुत कुछ बदल गया है, जिसे आज के डूडल में देखा जा सकता है. हालांकि, गूगल का मिशन हमेशा एक ही रहा- दुनिया की जानकारी को व्यवस्थित करना और इसे सार्वभौमिक रूप से सुलभ और उपयोगी बनाना. दुनिया भर से अरबों लोग खोजने, जुड़ने, काम करने, खेलने और बहुत कुछ करने के लिए Google का उपयोग करते हैं.