केएल राहुल के करियर का आखिरी मैच साबित होगा नागपुर टेस्ट? BCCI अधिकारी के बयान से हड़कंप

0
297

टीम इंडिया फिलहाल नागपुर में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज का पहला टेस्ट मैच खेल रही है. भारतीय गेंदबाजों ने बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी सीरीज के इस पहले मुकाबले में शानदार प्रदर्शन किया और मेहमान टीम की पहली पारी 177 रन पर समेट दी. फिर कप्तान रोहित शर्मा ने शतक जड़ा और टीम को मजबूती दी. इस बीच एक खिलाड़ी फ्लॉप साबित हुआ. उसके बल्ले से केवल 20 रन निकले जिसके लिए 71 गेंदों का सामना किया.

केएल राहुल का भविष्य खतरे में?

जिस बल्लेबाज के बारे में बात हो रही है, वह कोई और नहीं बल्कि टीम इंडिया के ओपनर केएल राहुल हैं. टेस्ट सीरीज में भारतीय टीम की उप-कप्तानी संभाल रहे केएल राहुल के भविष्य पर खतरा मंडराने लगा है. अगर वह फॉर्म में नहीं आते हैं तो उन्हें भी टीम से बाहर किया जा सकता है. ऐसा हम नहीं बल्कि बीसीसीआई के एक अधिकारी ने कहा है. अधिकारी ने साफ किया है कि ऐसा कोई नियम नहीं हैं कि टीम के उप-कप्तान को बाहर नहीं किया जा सकता.

 

BCCI अधिकारी ने दिया बयान

घरेलू क्रिकेट में कर्नाटक का प्रतिनिधित्व करने वाले केएल राहुल खराब फॉर्म से गुजर रहे हैं. कई लोग लगातार सवाल उठा रहे हैं कि केएल राहुल इतने खराब प्रदर्शन के बावजूद टीम में क्यों हैं. कुछ का कहना है कि ऐसा इसलिए क्योंकि वह टीम के उप-कप्तान हैं. अब बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इस मामले पर अपनी बात रखी है. उन्होंने कहा है कि राहुल को कोई विशेष छूट नहीं मिली है. अगर वह भी खराब प्रदर्शन करते हैं तो उन्हें भी टीम से बाहर किया जा सकता है.

उप-कप्तान को भी कर सकते हैं बाहर

बीसीसीआई के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इनसाइडस्पोर्ट को बताया कि मौजूदा सेटअप में उप-कप्तान को कोई छूट नहीं है. उन्होंने कहा, ‘किसने कहा कि उप-कप्तान को कोई छूट नहीं है? ऐसा कोई नियम नहीं है कि उप-कप्तान को हटाया नहीं जा सकता. निश्चित रूप से राहुल भविष्य की टेस्ट कप्तानी के लिए उम्मीदवारों में से एक हैं, लेकिन जब बेंच पर इन-फॉर्म खिलाड़ी हों, तो किसी तरह का रिस्क नहीं लिया जा सकता.’

काफी समय से नहीं बना पाए शतक

सेंचुरियन में अपने शतक के बाद से केएल राहुल ने टेस्ट में खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं. तीनों फॉर्मेट में उनका बल्ला शांत सा है. वहीं, शुभमन गिल ने उनकी जगह खतरे में डाल दी है. गिल शानदार फॉर्म में हैं और राहुल ने 2022 के बाद से 8 पारियों में सिर्फ 137 रन बनाए हैं, अब उनके पास समय कम पड़ रहा है.