छत्तीसगढ़ में हुआ अजीब हत्याकांड, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान

0
202

रायगढ़ । ग्राम भेडीमुडा(अ) के सुवासुपारा निवासी भगत राम अगरिया (50) उसकी पत्नी दिलो बाई अगरिया (45) को केवल इतनी सी बात पर डंडे से मारपीट कर मौत के घाट उतार दिया क्योंकि उसके मना करने के बावजूद उसकी पत्नी पड़ोस के घर टमाटर मांगने जा रहा थी। घटना की सूचना पर रात में ही लैलूंगा पुलिस सुवासुपारा में दबिश देकर आरोपी को हिरासत में लेकर थाने लाया गया जिसे आज न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है ।

बुधवार की शाम लैलूंगा थाना प्रभारी नारायण सिंह मरकाम को घटना के संबंध में सूचना मिली। इस पर तत्काल थाना प्रभारी लैलूंगा स्टाफ के साथ घटनास्थल ग्राम भेडीमुडा (अ) सुकवासुपारा पहुंचे । जहां मृतिका के ससुर इन्दरसाय अगरिया (73) ने बताया कि 6 दिसंबर की रात उसकी बहू दिलो बाई अपने पति को चटनी बनाने के लिए पड़ोसी के यहां टमाटर मांगने के लिए जाने की बात कही। इस पर उसके पति भगतराम विश्वकर्मा उसे मना किया। इसी बात को लेकर दोनों में बहस हुआ और दिलोबाई अपने पति को धक्का दे दी। जिससे भगतराम जमीन में गिर गया। जमीन में उठकर भगत राम घर के बाहर रखा बांस का डंडा लाकर अपनी दिलो बाई को मारपीट करने लगा। जिससे दिलो बाई के सिर में गंभीर चोट से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। लैलूंगा पुलिस द्वारा इंदरसाय अगरिया के रिपोर्ट पर मर्ग कायम कर मर्ग पंचानामा कार्रवाई पश्चात शव को पोस्टमार्टम के लिए रवाना कर आरोपित भगतराम पर हत्या का अपराध दर्ज कर उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने अपना अपराध स्वीकार किया।