शादीशुदा प्रेमी ने लिव-इन पार्टनर को मार डाला: महिला कर्मचारी का मिला नग्न शव, 53 साल के ब्‍वायफ्रेंड ने चाकू से मारकर ली जान

0
126

छत्तीसगढ़ के बालोद में मंडी में कार्यरत एक महिला कर्मचारी की हत्या कर दी गई। उसका शव रविवार देर रात खून से लथपथ नग्न हालत में घर में मिला है। महिला तीन साल से कृषि उपज मंडी के लाइन इंस्पेक्टर के साथ लिव-इन में रह रही थी। सूचना मिलने पर पुलिस ने अधेड़ लाइन इंस्पेक्टर को गिरफ्तार कर लिया है। अभी तक हत्या का कारण सामने नहीं आ सका है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। बताया जा रहा है कि धारदार हथियार से महिला की हत्या की गई है। मामला सिटी कोतवाली क्षेत्र का है।

लड़ाई-झगड़े की सूचना पर पुलिस पहुंची तो मिला शव
जानकारी के मुताबिक, सीमा धनगुल (40) मंडी में कार्यरत थी और शहर के पांडे पारा स्थित मकान में किराये से गंगाधर टंडन (53) के साथ रहती थी। गंगाधर भी कृषि उपज मंडी में लाइन इंस्पेक्टर है। मकान मालिक ने देर रात पुलिस को सूचना दी कि घर में काफी लड़ाई-झगड़ा हो रहा है। कुछ अनहोनी हो सकती है। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची तो सीमा धनगुल खून से लथपथ नग्न हालत में पड़ी थी। आसपास खाने का सामान बिखरा था। पुलिस उसे जिला अस्पताल ले गई, जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

सीमा के पति की पहले ही हो चुकी है मौत
पुलिस ने बताया कि, जांच के दौरान सामने आया है कि सीमा के पति की मौत हो चुकी है। उसका एक बेटा है, जो ओडिशा के संबलपुर में रहता है। यहां गंगाधर टंडन और सीमा धनगुल करीब तीन साल से लिव-इन रिलेशनशिप में रह रहे थे। गंगादास शराब पीने का आदी है। वारदात रात करीब 2 बजे की बताई जा रही है। पुलिस ने गंगादास को हिरासत में ले लिया है और उससे पूछताछ हो रही है। अभी तक पता चला है कि चाकू से वारकर सीमा की हत्या की गई। हालांकि हत्या करने का कारण सामने नहीं आ सका है।

आरोपी का पूरा परिवार कवर्धा में रहता है
बताया जा रहा है कि, गंगादास टंडन की पहले बालोद में पोस्टिंग थी, लेकिन दो साल पहले कवर्धा ट्रांसफर हो गया। इसके बाद करीब एक साल से वह ड्यूटी पर नहीं जा रहा है। थाना प्रभारी नवीन बोरकर ने बताया कि, गंगादास का पूरा परिवार कवर्धा में रहता है। सीमा विधवा थी और दोनों लिव-इन में रहते थे। दोनों के बीच दो दिन से किसी बात को लेकर लड़ाई-झगड़ा चल रहा था। देर रात बात इतनी बढ़ गई कि महिला की हत्या हो गई। फिलहाल आगे जांच और रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कह सकेंगे।