RO NO.....12737/20

मां ने अपने बेटे की ले ली जान, धारदार हथियार से मारा, ये थी वजह

0
138

धमतरी। छत्‍तीसगढ़ के धमतरी जिले में एक सनसनीखेज वारदात सामने आई है। यहां एक युवक की नृशंस हत्या के मामले में पुलिस ने उसकी मां को गिरफ्तार किया है। बेटे की मानसिक स्थिति खराब होने के कारण उसके उपचार में हो रहे खर्च और बेटे के बहू के साथ आए दिन की झगड़े से वह परेशान हो गई थी। उसने बहू के मायके जाने के बाद अपने बेटे को मौत के घाट उतार दिया।

RO NO.....12737/20

बेटे के मानसिक इलाज में हो रहे खर्च और बहू के साथ लड़ाई-झगड़े से थी परेशान

दरअसल, यह ग्राम पंचायत गंगरेल के बाजार पारा का है। रुद्री पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार 15 मई को बाजार पारा गंगरेल में 40 वर्षीय गणेश पटेल की किसी ने धारदार हथियार से हमला हत्या कर दी। पुलिस ने मृतक की माता फुलेश्वरी पटेल की सूचना पर पुलिस ने घटनास्थल पहुंचकर जांच-पड़ताल की।

पुलिस ने मृतक के घर के आसपास के लोगों से पूछताछ की। तब पता चला कि मृतक की पत्नी एवं उनकी सास के साथ आए दिन घर में लड़ाई-झगड़ा होता है। इसके बाद पुलिस ने मृतक की मां से पूछताछ की जिसमें शक की सुई उसके ऊपर ही घूमने लगी।

पुलिस की पूछताछ में मां ने किया राजफाश

कड़ाई से पूछताछ के दौरान मृतक की मां ने बताया कि मानसिक स्थिति खराब होने के कारण अपने बेटे के इलाज एवं बहू से लड़ाई-झगड़े से तंग आ चुकी थी। एक सप्ताह पूर्व उसके बेटे गणेश पटेल ने बोला कि उसके पास घर नहीं है एवं पैसा भी नहीं है। वह अपनी पत्नी के साथ पुराने घर में आकर रहना चाह रहा। वह बहू को साथ में नहीं रखना चाहती थी।

जिसके कारण बेटे के साथ वाद-विवाद हुआ था। बेटे की मानसिक स्थिति बचपन से ठीक नहीं थी, जिसका इलाज मनोरोग चिकित्सालय माना तुता से चल रहा था।

बहू के मायके जाने के बाद मां ने दिया वारदात को अंजाम

बेटे का मानसिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण आये दिन उसके साथ लड़ाई-झगड़ा करता था। उसके इलाज के दवाई का खर्च भी मां होने के कारण उसे ही उठाना पड़ता था। 14 मई को मृतक गणेश की पत्नी शादी में अपने मायके बरदेभांठा कांकेर चली गई।

बेटे को अकेला पाकर आरोपित मानी 15 मई को तड़के तीन बजे पुत्र गणेश पटेल की किचन में रखे हंसिया से उसके पेट में वार कर हत्या दी। पुलिस ने आरोपित फुलेश्वरी साहू 65 वर्ष को हत्या के अपराध में गिरफ्तार कर लिया है।