Narendra Modi

12784/20 RO NO

बर्फीले तूफान में जम गया वॉटरफॉल, अब तक 60 मौतें, ड्राइविंग बैन लागू, गाड़ियों में मिलीं कई फ्रोजन लाशें

0
203

अमेरिका में आये बर्फीले तूफान ने सब कुछ अस्त व्यस्त कर रख दिया है. जानकारों का कहना है कि ये बर्फीला तूफान आर्कटिक डीप फ्रीज (Arctic Deep Freeze) की वजह से आया है. कहर बरपाने वाले इस तूफान की वजह से अब तक 60 से ज्यादा लोगों के मरने की खबर है. पूरे अमेरिका में बीते सोमवार को 3800 से ज्यादा उड़ानें रद्द हुईं. यही नहीं, बिगड़ते हालातों को देखते हुए 70 फीसदी तक उड़ानें रद्द हो रही हैं. तो वहीं बफेलो में भी सभी तरह की परिवहन सुविधाएं प्रभावित रहीं. यहां ट्रेनें और हवाई यात्रा को रद्द करना पड़ा. यहां तक कि भीषण बर्फबारी के चलते सड़क रास्ते भी बंद कर दिए गये हैं.

बफेलो समेत उन इलाकों में ड्राइविंग बैन लागू है जहां बर्फ ने अपना सितम ढा रखा है. अमेरिका में चारों तरफ जमी बर्फ की मोटी चादर की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हैं. इसी कड़ी में अमेरिका के टेनेसी में सोमवार को एक झरना की तस्वीरें भी सामने आईं जो कि सर्दी और मौसम के बर्फीले अटैक में 90 फीसदी से ज्यादा जम गया. वाटर फॉल को लेकर सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में टेलिको प्लेन्स में बाल्ड रिवर फॉल्स को बड़े पैमाने पर बर्फ से ढका देखा जा सकता है.

गाड़ियों में मिलीं फ्रोजन लाशें

अमेरिका में प्रकृति के इस कहर में चारों तरफ कोहराम मचा हुआ है. भयानक सर्दी से मरने वालों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है. हर तरफ बर्फ की मोटी चादर ने जीवन थाम दिया है. ऐसे में एक तरफ जहां लोग घर से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ बर्फ से ढकी गाड़ियों में फ्रोजन शव मिल रहे हैं. तूफान के कहर का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि कार और घरों से लोगों के शव बाहर निकाले जा रहे हैं.

1983 के बाद 25 दिसंबर को रहा सबसे कम तापमान

उत्तर भारत इन दिनों कड़ाके की ठंड से जकड़ा हुआ है. लेकिन भारत ही नहीं अमेरिका और जापान में भी बर्फीले तूफान का कहर जारी है. अमेरिका में अधिकांश हिस्सों में भारी बर्फबारी हो रही है. इसके साथ ही तेज हवाओं के चलते लोगों को भीषण ठंड का सामना करना पड़ रहा है. नेशनल वेदर सर्विस के मुताबिक, फ्लोरिडा के मियामी, थंपा, ऑरलेंडो और वेस्ट पाल्म बीच में 25 दिसंबर को 1983 के बाद सबसे कम तापमान रहा.

बर्फ़बारी के चलते 7 लाख घरों की बिजली गुल

अमेरिका में बर्फबारी के चलते 7 लाख घरों की बिजली गुल हो गई है. ठंड से सबसे प्रभावित न्यूयॉर्क का बफेलो है. यहां 43 इंच बर्फबारी हुई है. इसके चलते लोगों का सड़क पर चलना मुश्किल हो रहा है. इतना ही नहीं पॉवर स्टेशन पर बर्फबारी के चलते बिजली व्यवस्था चरमरा गई है. यहां 10 से ज्यादा लोगों की मौत ठंड से हुई है.

जापान में भी ठंड का कहर

जापान में 14 की मौत जापान में भी भीषण ठंड का कहर जारी है. जापान में कई इलाकों में पिछले कुछ दिनों से भारी बर्फबारी जारी है. यहां 17 दिसंबर से अब तक ठंड से जुड़ी घटनाओं में 14 लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि 87 लोग जख्मी हैं. जापान के निगाता में 1.2 मीटर तक बर्फबारी रिकॉर्ड की गई. इसके चलते इलाके में ब्लैक आउट हो गया. करीब 2000 घरों की बत्ती गुल हो गई. वहीं, प्रशासन ने लोगों से गैर जरूरी होने पर घर से बाहर न निकलने की सलाह दी है.