RO NO.....12737/20

प्रेमी ने दी मौत, रूह कांप उठेगी लिव इन में रही चार बच्चों की मां की कहानी का ये अंजाम जानकर

0
156

सहारनपुर निवासी महिला की हत्या उसके ही प्रेमी ने किसी और के साथ अवैध संबंध होने के शक में की थी। हत्या करने से पहले दोनों के बीच विवाद भी हुआ था। आरोपी ने महिला को धक्का देकर नाले में गिराया और मुंह नाले में अंदर की तरफ दबाकर हत्या कर दी।

RO NO.....12737/20

इसके बाद आरोपी फरार हो गया था। पुलिस और एसओजी की टीम ने आरोपी को सहारनपुर से गिरफ्तार करते हुए हत्याकांड का खुलासा कर दिया है। एसएसपी ने आरोपी को पकड़ने वाली टीम की पीठ थपथपाई। सोमवार को जिला पुलिस कार्यालय रोशनाबाद में मामले का खुलासा करते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय सिंह ने बताया कि 17 जनवरी को रानीपुर कोतवाली क्षेत्र की पुलिस चौकी औद्योगिक क्षेत्र (गैस प्लांट) के पीछे नाले में एक महिला का शव मिला था।

देर रात में महिला की बेटियों ने उसकी शिनाख्त कृष्णा निवासी ग्राम कुरडीखेड़ा चाणचक थाना बिहारीगढ़ जिला सहारनपुर के रूप में की थी। महिला अपने पति से अलग चार साल से सिडकुल के रावली महदूद स्थित ब्रह्मपुरी में अपनी बेटियों के साथ किराये के मकान में रह रही थी और सिडकुल की एक कंपनी में कार्यरत थी।

जबकि दीपक निवासी ग्राम कुरडीखेड़ा चाणचक थाना बिहारीगढ़ सहारनपुर से चार साल से लिव इन रिलेशनशिप में थी। महिला की बेटी की तरफ से आरोपी दीपक के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कर पुलिस और सीआईयू की टीमें तलाश में लगा दी गई थी। रविवार को आरोपी को सहारनपुर से गिरफ्तार कर लिया गया।

एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि आरोपी बीते कुछ समय से महिला के किसी और से अवैध संबंध होने के शक पर जान से मारने की धमकी दे रहा था। इस बात को लेकर दोनों के बीच कई बार विवाद भी हुआ। 16 जनवरी की रात को भी कंपनी से लौटते समय दोनों के बीच विवाद हुआ था। इसके बाद उसने कृष्णा को धक्का देकर नाले में गिराकर पीछे से उसका सिर नाले में अंदर की तरफ दबाकर हत्या कर दी थी। रानीपुर कोतवाली प्रभारी नरेंद्र सिंह बिष्ट ने बताया कि आरोपी को कोर्ट में पेशकर जेल भेज दिया गया है।

20 दिन से बातचीत नहीं कर रही थी कृष्णा

एसएसपी अजय सिंह ने बताया कि रावली महदूद स्थित ब्रह्मपुरी में दोनों लोग चार साल से लिव इन रिलेशनशिप में रह थे। घटना के दिन से 20 दिन पहले से महिला ने दीपक से बातचीत करनी बंद कर दी थी। उसका नंबर भी ब्लॉक कर दिया था। आरोपी दीपक को कृष्णा का किसी और के साथ संबंध होने व उसके साथ न रहने का शक हो गया था।

पहले कमरे पर फिर रास्ते में हुआ था विवाद

जानकारी के अनुसार आरोपी दीपक 16 जनवरी की सुबह कृष्णा के कमरे पर पहुंचा और उससे अपना फोन दिखाने के लिए कहा। कृष्णा के फोन में उसे दूसरा सिम मिला। इसको लेकर दोनों के बीच झगड़ा हो गया। फिर आरोपी रात को कृष्णा की कंपनी के पास पहुंच गया और गैस प्लांट चौकी के पास पहुंचने के दौरान फिर से दोनों के दोबारा से इसी बात को लेकर विवाद हो गया। इसके बाद उसने कृष्णा को नाली में धक्का देकर गिराया और पीछे से उसका सिर नाली में अंदर की तरफ दबाकर हत्या कर दी।