IMD ने छत्तीसगढ़ में भारी बारिश की दी चेतावनी, बीजापुर-नारायणपुर में ऑरेंज अलर्ट

0
99

रायपुर. छत्तीसगढ़ में पिछले कुछ दिनों से धीमे पड़ा मानसून एक बार फिर तेज रफ्तार पकड़ सकता है. पिछले 24 घंटे में सुकमा और उसके आसपास के क्षेत्र में अच्छी बारिश देखने को मिली है. साथ ही बस्तर और धमतरी में भी मानसून का असर देखने को मिला, जिससे कई जगहों पर हल्की और तेज बारिश हुई. प्रदेश में अगले 4 घंटे के अंदर तेज बारिश की भी आशंका जताई गई है.

मौसम विभाग ने प्रदेश के बीजापुर और नारायणपुर जिले के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. इसके अलावा बस्तर, धमतरी, बालोद और राजनांदगांव संभाग के जिलों में तेज बारिश का येलो अलर्ट जारी है. विभाग के अनुसार इन संभागों के कई जिलों में भारी बारिश होने की संभावना है. इसके अलावा राजधानी रायपुर और उससे सटे आसपास के क्षेत्र में भी बारिश हो सकती है.

एनएच 30 पर भरा पानी
लगातार हो रही बारिश के चलते सुकमा जिले के बांध व तालाब लबालब भर गए है तेज बारिश के बाद पानी राष्ट्रीय राजमार्ग 30 पर आ गया, जिसके कारण कई घर व दुकानें जलमग्न हो गई. पटनम पारा में अचानक आए पानी ने लोगों को संभलने का मौका तक नही दिया और देखते ही देखते पूरी सड़क जलमग्न हो गई. हालांकि प्रशासन लगातार पानी निकासी को लेकर प्रयास करता रहा.

कई जिलों में बारिश का अलर्ट
मौसम विभाग ने प्रदेश के कई जिलों में बारिश का अलर्ट जारी किया है, जिसमें मुख्य रूप से बीजापुर और नारायणपुर जिले के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. यहां बीती शाम भी हल्की बारिश का दौर देखने को मिला है. बस्तर, धमतरी, बालोद और राजनांदगांव संभाग के जिलों में तेज बारिश का येलो अलर्ट जारी है. मानसून का असर इन जिलों में देखने को मिल सकता है.

क्यों बन रहा ऐसा मौसम
मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार दक्षिण ओडिशा तट पर बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण मानसूनी द्रोणिका जैसलमेर, कोटा, गुना, रायपुर, भवानीपटना से होकर गुजर रही है, जिसके कारण छत्तीसगढ़ में अगले 48 घंटे के अंदर तेज बारिश देखने को मिल सकती है. साथ ही कई जिलों में तेज हवाओं का दौर भी देखने को मिलेगा. हालांकि कुछ जिलों में मौसम सामान्य रहेगा.