Narendra Modi

12784/20 RO NO

क्या भारत जोड़ो यात्रा के बाद बदला जनता का मिजाज? देश में राहुल गांधी के काम से कितने प्रतिशत लोग संतुष्ट

0
196

कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा जारी है. इस बीच इंडिया टुडे सी वोटर सर्वे ने राहुल गांधी को लेकर लोगों का मन टटोला है. इसमें पूछा गया था कि राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के काम से भारत में कितने लोग ‘संतुष्ट’ हैं. इस सर्वे में पता लगा है कि 15 जनवरी 2023 तक पूरे भारत में 50 प्रतिशत लोग राहुल के काम से संतुष्ट हैं. यह आंकड़ी पिछले साल से ज्यादा है. पिछले साल अक्टूबर 2022 में यह आंकड़ा 42.6 प्रतिशत था. यानि भारत जोड़ो यात्रा ने लोगों के मन को बदलने का काम तो जरूर किया है.

वहीं, तमिलनाडु, केरल, मध्य प्रदेश, राजस्थान और हरियाणा में भी इसे लेकर सर्वे किया गया. सबसे ज्यादा केरल के लोग राहुल गांधी से संतुष्ट नजर आए. सर्वे के मुताबिक केरल के लोग राहुल से 69.1 प्रतिशत संतुष्ट हैं. यही आंकड़ा पिछले साल 62.8 प्रतिशत था. इसके बाद तमिलनाडु का आंकड़ा सबसे ज्यादा है. यहां भी 60 प्रतिशत से ज्यादा लोग राहुल के काम से संतुष्ट हैं.

राहुल गांधी के काम से कितने लोग संतुष्ट ?

भारत : 50 प्रतिशत
तमिलनाडु : 62.02 प्रतिशत
केरल : 69.01 प्रतिशत
मध्य प्रदेश : 56.08 प्रतिशत
राजस्थान : 41.04 प्रतिशत
हरियाणा : 41.04 प्रतिशत

इसके अलावा भारत का प्रधानमंत्री बनने के लिए कौन सबसे बेहतर है? इसे लेकर भी सर्वे किया गया. इसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का समर्थन करने वालों की तादाद राहुल गांधी की के समर्थकों से दोगुनी थी. नरेंद्र मोदी को 60.06 प्रतिशत तो राहुल गांधी को महज 29.09 प्रतिशत लोगों ने प्रधानमंत्री के रूप में पसंद किया.

यही आंकड़ा साल 2022 सितंबर को यानी देश में भारत जोड़ो यात्रा के ठीक बाद नरेंद्र मोदी के लिए 58.08 प्रतिशत था और राहुल गांधी के लिए 29 प्रतिशत. वहीं, पिछले लोकसभा चुनाव वाले साल के पहले-पहले दिन इस आंकड़े में इतना अंतर नहीं था. तब मोदी को 50 प्रतिशत तो राहुल को 38 प्रतिशत लोगों ने पसंद किया था.

भारत का प्रधानमंत्री बनने के लिए कौन सबसे बेहतर?

नरेंद्र मोदी : 60.06 प्रतिशत
राहुल गांधी : 29.09 प्रतिशत