‘महाकाल की थाली’ वाले विज्ञापन पर जोमैटो ने मांगी माफी, दी यह सफाई

0
199

नई दिल्ली. ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनी जोमैटो ने अपने एक विज्ञापन को लेकर माफी मांगी है. साथ ही कंपनी ने इस पर सफाई भी जारी की है. दरअसल, विज्ञापन में अभिनेता ऋतिक रोशन महाकाल थाली ऑर्डर करते हैं जिसे लेकर हिंदु जनजागृति मंच के लोगों ने जोमैटो के बायकॉट का आह्वान किया था. विज्ञापन में ऋतिक कहते हैं, “थाली खाने का मन था महाकाल से मंगा लिया.”

हिंदू जनजागृति मंच ने इस पर आपत्ति जताते हुए कहा, “महाकाल कोई नौकर नहीं है जो खाना डिलीवर करें, वह एक भगवान है जिनकी पूजा होती है. क्या जोमैटो किसी अन्य धर्म के भगवान का इसी तरह अपमान कर सकता है.” बता दें कि हिंदू धर्म के अनुयायी भगवान शिव को महाकाल भी कहते हैं. जोमैटो ने इस विवाद के बाद अपनी सफाई जारी की है. कंपनी ने कहा है कि विज्ञापन में महाकाल रेस्टोरेंट की थाली का जिक्र किया गया है न कि श्री महाकालेश्वर मंदिर का.

कंपनी की सफाई
बकौल जोमैटो, यह विज्ञापन उनके भारत भर में जारी कैंपेन का हिस्सा है जिसमें वह स्थानीय तौर पर प्रसिद्ध फूड आउटलेट्स के सबसे अधिक चर्चित मैन्यू को प्रमोट कर रहे हैं. जोमैटो ने कहा, “हम उज्जैन के लोगों की भावनाओं का सम्मान करते हैं. इस विज्ञापन को बंद कर दिया गया है. हमारी मकसद किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं था और हम इसके लिए माफी मांगते हैं.” आपको बता दें कि मध्य प्रदेश के उज्जैन में स्थित महाकालेश्वर मंदिर भगवान शिव के 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक है.

मंदिर के 2 पुजारियों ने उठाया मुद्दा
जोमैटो के खिलाफ बॉयकॉट की शुरुआत महाालेश्वर मंदिर के 2 पुजारियों द्वारा इस मुद्दे को उठाने के बाद हुई थी. दोनों पुजारियों ने इस विज्ञापन को तुरंत हटाए जाने की मांग की थी. पुजारियों का कहना था कि उनका प्रसाद एक थाली में श्रृद्धालुओं को मुफ्त में दिया जाता है और यह कोई फूड डिलीवरी ऐप से ऑर्डर की जाने वाली थाली नहीं है. वे इस मामले को लेकर उज्जैन के डीसी आशीष सिंह के पास भी पहुंचे थे. इसके बाद से ही ट्विटर पर जोमैटौ के खिलाफ बॉयकॉट ट्रेंड शुरू हो गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here