झगड़ा किया तो पत्नी ने पति का गला घोंट कर मार डाला, फिर भाई और मां के साथ मिलकर पेड़ से फांसी पर लटका दिया शव

0
133

छत्तीसगढ़ के कबीरधाम में एक महिला ने अपने पति की गला घोंटकर हत्या कर दी। इसके बाद अपने भाई और मां के साथ मिलकर उसका शव जामुन के पेड़ से फांसी पर लटका दिया। पति अपने ससुराल आया हुआ था और शराब के नशे में पत्नी से झगड़ा कर रहा था। इसी बात से पत्नी भड़क गई। हत्या के बाद पुलिस को सूचना दी कि पति ने खुदकुशी कर ली है। फिलहाल जांच के बाद पुलिस ने पत्नी, उसके भाई और सास को गिरफ्तार कर लिया है। मामला चिल्फी थाना क्षेत्र का है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला दबाने का पता चला
जानकारी के मुताबिक, पुलिस को 17 जून को सूचना मिली थी कि, ग्राम तुरैयाबहरा डोंगरी में बोड़ला के ग्राम पालक निवासी धूर सिंहबैगा (40) ने जामुन पेड़ पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। इस पर पुलिस पहुंची और शव को नीचे उतरवाकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में धूर सिंह का गला दबाकर हत्या करने की बात सामने आई। इस पर पुलिस ने जांच शुरू की तो पता चला कि, धूरसिंह 13 जनवरी को अपनी पत्नी को लेने के लिए ग्राम सुरैयाबहरा अपने ससुराल आया था।

पत्नी बोली- शराब पीकर लड़ते हो और घोंट दिया गला
इस पर पुलिस ने पत्नी से पूछताछ शुरू की तो उसने परिजनों के साथ मिलकर हत्या करने की बात स्वीकार कर ली। पत्नी महातरीन बाई ने बताया कि, 15 जून की रात करीब 9-10 बजे उसका पति घूरसिंह बैगा से विवाद हुआ था। महातरीन बाई ने रोज शराब पीकर झगड़ा करने की बात को लेकर पति की गला दबाकर हत्या कर दी। आरोप है कि इसके बाद अपने भाई जलाल मेरावी और मां मनकी बाई के साथ मिलकर धुरसिंह बैगा के शव को घर के पास डोंगरी में जामुन पेड़ से साड़ी को फंदा बनाकर लटका दिया।

वारदात के दो दिन बाद पत्नी के भाई ने दर्ज कराया मामला
वारदात के दो दिन बाद आरोपी बृजलाल ने पुलिस को गुमराह करने के लिए थाने में आकर रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसके जीजा धूरसिंह ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करने के साथ ही तीनों आरोपियों महतारिन बाई, उसके भाई, बृजलाल मरावी और मां मनकी बाई पत्नी मंगलू बैगा को सोमवार को गिरफ्तार कर लिया। सभी आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है।