RO NO.....12737/20

देश के पीएम नरेंद्र मोदी के पास कितना है कैश, जानकर हो जाएंगे हैरान

0
194

दिल्ली: देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आज 72वां जन्मदिन है. गुजरात के मेहसाणा जिले में स्थित वडनगर में साल 1950 में उनका जन्म हुआ था.  पीएम मोदी का जीवन संघर्षों से भरा रहा है. बचपन में पढ़ाई से समय बचने पर वह अपने पिता की चाय का दुकान पर मदद करते थे. एक चायवाले से किस तरह उन्होंने पीएम पद का सफर तय किया आइए जानिए उनके बारे में.

RO NO.....12737/20

बचपन में पिता के काम में बटाया हाथ
पीएम मोदी के पिता का नाम दामोदरदास था. पिता की एक चाय की दुकान स्टेशन के बाहर थी. बचपन में पढ़ाई से उन्हें जो समय मिलता उसमें दुकान पर पिता का हाथ बटाने पहुंच जाते थे. साथ ही ट्रेनों में चाय भी बेचते थे. उनकी मां का नाम हीराबेन हैं. वह उन्हें बचपन में प्यार से नरिया बुलाती थी. पीएम मोदी छह भाई-बहन हैं. वह खुद तीसरे नंबर पर आते हैं. वह परिवार समेत छोटे से कमरे वाले घर में रहते थे. घर की दीवारें मिट्टी की थी.

गुजरात बोर्ड से पास की हाईस्कूल
पीएम मोदी ने गुजरात बोर्ड से 1967 में हाईस्कूल पास किया था. दिल्ली यूनिवर्सिटी से 1978 में बीए किया.  इसके बाद  1983 में राजनीति विज्ञान में एमए किया. एमए में उनके पास यूरोपियन पॉलिटिक्स, इंडियन पॉलिटिक्स एनालिसिस और साइकोलॉजी ऑफ पॉलिटिक्स आदि विषय थे.

पीएम मोदी कितनी संपत्ति के मालिक हैं

बीते दिनों प्रधानमंत्री कार्यालय ने इस बात की जानकारी दी थी। PMO के मुताबिक, पीएम मोदी के पास इस समय कुल 2.23 करोड़ रुपए की संपत्ति है और इसमें एक साल में 26 लाख रुपए का इजाफा हुआ है। मिली जानकारी के मुताबिक, पीएम की संपत्ति की ज्यादातर धनराशि बैंक खातों में जमा है और उनके पास किसी तरह की अचल संपत्ति नहीं है। उनके पास पहले गांधीनगर में अपने हिस्से की एक जमीन थी, जिसे उन्होंने दान कर दिया।

कितना है कैश

मिली जानकारी के मुताबिक, पीएम मोदी के पास 31 मार्च 2022 के आधार पर कुल नकदी 35,250 रुपए है। इसके अलावा उनके पोस्ट ऑफिस में 9,05,105 रुपए के NSC हैं और 1,89,305 रुपए की जीवन बीमा की पॉलिसी है।

कितनी बढ़ी दौलत

पीएमओ की वेबसाइट पर दी गई जानकारी के मुताबिक, 31 मार्च 2022 के आधार पर पीएम मोदी की कुल संपत्ति 2,23,82,504 है। उनकी संपत्ति में बीते साल के हिसाब से 26.13 लाख रुपए की बढ़ोतरी हुई है। साल 2002 में उन्होंने एक आवासीय जमीन खरीदी थी। लेकिन अब इस पर उनका कोई हक नहीं है। क्योंकि वह इसे दान कर चुके हैं।

पीएम के पास हैं सोने की 4 अंगूठी  

पीटीआई के मुताबिक, पीएम मोदी के पास सोने की 4 अंगूठी हैं, जिनकी कीमत 1.73 लाख रुपए है। इसके अलावा उन्होंने किसी बॉन्ड, शेयर या म्यूचल फंड में इंवेस्ट नहीं किया है। ये उनकी 31 मार्च 2022 तक घोषित संपत्ति है, जिसकी जानकारी पीएमओ की वेबसाइट पर भी है।

पीएम मोदी से जुड़ी ये विशेष बातें
नरेंद्र मोदी बचपन में आम बच्चों से बिलकुल अलग थे. उन्हें बचपन में एक्टिंग का शौक था. पीएम मोदी बचपन में स्कूल में अभिनय, वाद-विवाद, नाटकों में हिस्सा लेते तथा पुरस्कार जीतते थे. इसके साथ-साथ उन्होंने  NCC में भी ट्रेनिंग ली. वे एक बार तालाब से एक घड़ियाल का बच्चा पकड़कर घर लेकर आ गए. मां के समझाने पर वे वापस उसे तालाब छोड़कर आए.नरेन्द्र मोदी बचपन में साधु-संतों से प्रभावित हुए. वे बचपन से ही संन्यासी बनना चाहते थे.संन्यासी बनने के लिए मोदी विद्यालय की पढ़ाई के बाद घर से भाग गए थे.

बचपन से ही था आरएसएस से लगाव

1958-आरएसएस के प्रति पीएम मोदी का बचपन से ही जुड़ा था. साल 1958 में नरेंद्र मोदी ने बाल स्वयंसेवक की शपथ ली थी. फिर वह धीरे-धीरे कर के आरएसएस की शाखाओं में आने-जाने लगे.

1974- इस साल पीएम मोदी नव निर्माण आंदोलन में शामिल हुए. कई सालों तक वह राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रचारक रहे.

1987- इस साल पीएम मोदी ने बीजेपी ज्वाइन की थी.

1988-89- इस साल उन्हें भारतीय जनता पार्टी की गुजरात इकाई का महासचिव बनाया गया.

1990- लाल कृष्ण आडवाणी की सोमनाथ-अयोध्या रथ यात्रा के आयोजन में उन्होंने अहम भूमिका निभाई थी.

1995- इस साल पीएम मोदी को भारतीय जनता पार्टी का राष्ट्रीय सचिव और पांच राज्यों का पार्टी प्रभारी भी बनाया गया.

1998- इस साल पीएम को महासचिव (संगठन) बनाया गया.

2001- यह साल पीएम मोदी के जीवन में काफी बदलाव लेकर आया. गुजरात में आए भूकंप के कारण 20 हजार लोग मारे गए थे, तभी राजनीतिक दबाव के चलते तत्कालीन मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल को रिजाइन देना पड़ा था. फिर उनकी जगह पर नरेंद्र मोदी को मुख्यमंत्री की कुर्सी मिली.

2014- भारत के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here