Narendra Modi

12784/20 RO NO

सिंहदेव और ताम्रध्वज साहू के बीच, सियासी तकरार ! चुनाव लड़ने की बात पर बाबा का जवाब

0
219

रायपुर। अंबिकापुर में मीडिया से चर्चा में टीएस सिंहदेव ताम्रध्वज साहू को जवाब दिया है। दोनों जिस अंदाज में मीडिया से बात कर रहे हैं। उसे देखकर चर्चा है कि अंदर ही अंदर कुछ तो गड़बड़ है। दोनों के बीच जारी कोल्ड वॉर को उनके बयानों के लहजे से समझा जा सकता है।

स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंहदेव ने कहा है कि गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू से उनके व्यक्तिगत बेहतर और स्नेहिल संबंध हैं। संगठन और सरकार में एक साथ काम भी कर रहे हैं इसलिए उन्होंने क्या बयान दिया इस विषय पर तो मैं कुछ बोलना नहीं चाहता लेकिन यह तय है कि वरिष्ठम व अनुभवी मंत्री तथा साहू समाज सहित अन्य समाजों के बीच बेहद लोकप्रिय ताम्रध्वज साहू यदि चुनाव नहीं लड़ते हैं तो निश्चित रूप से इसका असर पड़ेगा।

अंबिकापुर प्रवास के दौरान मंत्री सिंहदेव से गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू के उस बयान को लेकर प्रतिक्रिया ली गई जिसमें किसी व्यक्ति विशेष के चुनाव नहीं लड़ने को लेकर कांग्रेस को कोई फर्क नहीं पड़ने का उल्लेख उन्होंने किया था।स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि इस विषय को लेकर गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू से उनकी बात हुई थी।गृहमंत्री ने उनसे कहा कि उन्होंने कई बातें कहीं थी लेकिन प्रचारित सिर्फ छांट कर दो लाइन ही की गई। स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने आगे कहा कि यह सच है कि सूर्योदय और सूर्यास्त होता रहेगा।आज जो है वह कल नहीं रहेगा। हमारे,आपके बच्चे आएंगे।वे जाएंगे फिर उनकी संतान आएंगे।किसी के जाने से पृथ्वी का चक्र नहीं रुकता। यदि ताम्रध्वज साहू चुनाव नहीं लड़ेंगे तो उनके यहां भी दस-बीस उम्मीदवार आ जाएंगे लेकिन यह भी तय है कि साहू समाज के प्रदेशाध्यक्ष के रूप में बेहतर कार्य करने के अलावा सर्व समाज में लोकप्रिय तथा स्वीकार्यता वाले वरिष्ठतम जनप्रतिनिधि ,कई बार के मंत्री ताम्रध्वज साहू यदि चुनाव नहीं लड़ेंगे तो निश्चित रूप से इसका फर्क पड़ेगा।

स्वास्थ्य मंत्री सिंहदेव ने कहा कि मैं अपनी बात नहीं कर रहा हूं। मेरे (टीएस सिंहदेव) रहने नहीं रहने से कोई फर्क नहीं पड़ेगा लेकिन ताम्रध्वज साहू जैसे लोग चुनाव नहीं लड़ेंगे तो निश्चित रूप से इसका असर पड़ेगा। चुनाव लड़ने वाले तो सामने आ जाएंगे लेकिन असर तो जरूर दिखेगा।स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा कि गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू से उनके व्यक्तिगत बेहतर संबंध है।यह भी संभव है कि गृहमंत्री की ऐसी मंशा न रही हो।उनके बयान पर मैं(टीएस सिंहदेव) टिप्पणी नहीं करना चाहता।उनसे मेरे बेहद स्नेहिल संबंध है।संगठन और सत्ता में एक साथ काम कर रहे हैं लेकिन मेरा मानना है कि ताम्रध्वज साहू जैसे व्यक्तित्व के चुनाव नहीं लड़ने का असर जरूर पड़ेगा।

यह कहा था गृहमंत्री ने
अंबिकापुर प्रवास के दौरान स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने कहा था कि सच बताऊं तो इस बार चुनाव लड़ने को लेकर वैसा मन नहीं है जैसा पिछले चुनाव तक रहता था। उनके इसी बयान के बाद गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू का एक बयान तेजी से प्रचारित हुआ था जिसमें उन्होंने कहा कि टीएस सिंहदेव के चुनाव नहीं लड़ने से कांग्रेस को कोई नुकसान नहीं होगा।फिल इन द ब्लेंकस के लिए कई लोग तैयार रहते हैं।कांग्रेस बहुत पुरानी और झंझावत झेलने वाली संस्था है।किसी एक क चुनाव नहीं लड़ने से कोई असर नहीं पड़ता है।उन्होंने साथ मे यह भी जोड़ा था कि किन परिस्थितियों में टीएस सिंहदेव ने यह बातें कहीं हैं इनकी जानकारी उन्हें नहीं है।