RO NO.....12737/20

एसडीएम ज्योति मौर्या की कहानी बिलासपुर में दोहराई, कॉन्स्टेबल बनते ही दूसरे की बाहों में झूलने लगी प्रेमिका

0
73

बिलासपुरः उत्तर प्रदेश के बरेली में एसडीएम ज्योति मौर्य का किस्सा सामने आने के बाद छत्तीसगढ़ में भी ऐसा ही मामला सामने आया है। बिलासपुर जिले में एक युवक ने प्रइवेट जॉब करते हुए अपनी प्रेमिका को पढ़ाई-लिखाई में मदद की। पत्नी कॉन्स्टेबल बन गई तो उसने अपने प्रेमी को छोड़ दिया। इतना ही नहीं, उसने दूसरे पुलिसकर्मियों के साथ मिलकर प्रेमी की जमकर पिटाई भी कर दी। युवक का कहना है कि उसकी प्रेमिका अब किसी दूसरे शख्स से प्यार करने लगी है। उसने एसपी से शिकायत कर न्याय की मांग की है।

RO NO.....12737/20

चार साल से था रिलेशनशिप
युवक ने अपनी शिकायत में बताया है कि चार साल से युवती के साथ उसका प्रेम- प्रसंग था। वह उसे शॉपिंग भी करवाता था। पढ़ाई-लिखाई में भी उसकी मदद करता था। इसके बाद युवती का कॉन्स्टेबल पद पर चयन हो गया। फिर उसने अपने प्रेमी से दूरी बना ली।

पूरा मामला कोटा थाना क्षेत्र के बेलगहना चौकी का है। मस्तूरी थाना क्षेत्र के ग्राम लावर में रहने वाला युवक सूरज गेंदले प्राइवेट जॉब करता है। उसका प्रेम प्रसंग पिछले 4 सालों से मस्तूरी थाना क्षेत्र के ही ग्राम बकरकुदा निवासी एक युवती से चल रहा था। युवती से वह बेइंतेहा प्यार करता था और युवती भी उसे चाहती थी। सूरज गेंदले अपनी प्राइवेट नौकरी की तनख्वाह से अपनी प्रेमिका और उसकी बहन को शॉपिंग करवाता था। वह ऑनलाइन सामान मंगा कर भी प्रेमिका को देता था। युवक के अनुसार उसकी प्रेमिका उस वक्त पढ़ाई कर रही थी। वह अपनी प्रेमिका को शॉपिंग और पढ़ाई-लिखाई के खर्चे के लिए भी पैसे देता था। युवती की नौकरी पुलिस विभाग में कॉन्स्टेबल के पद पर लग गई।

 

सूरज गेंदले के अनुसार नौकरी लगने की खुशी में उसने युवती को स्कूटी खरीदने के लिए 53 हजार रुपये भी दिए थे। सूरज का कहना है कि नौकरी ज्वॉइन करने से पहले तक उसकी प्रेमिका उसे बहुत चाहती थी। नौकरी लगने के बाद कभी ट्रेनिंग में व्यस्त होने और कभी ड्यूटी में व्यस्त होने के नाम पर उसे इग्नोर करने लगी। उसे समझ में नहीं आ रहा था कि उसकी प्रेमिका उससे दूर क्यों हो रही है। शुरुआत में उसे लगा कि व्यस्तता की वजह से प्रेमिका उसे इग्नोर कर रही है, पर जब लगातार ऐसा होने लगा तब उसने अपनी प्रेमिका से मैसेज कर इसका कारण पूछा। इसके बाद प्रेमिका ने उसे कॉल या मैसेज करने पर बुरा अंजाम भुगतने की धमकी दे डाली। युवती ने कहा कि यदि दुबारा उसे कॉल या मैसेज किया तो सोच लेना कि तुम्हारा क्या हाल होगा।

युवक फिर भी अपनी प्रेमिका से इस बेरुखी का कारण पूछने लगा। तब उसकी पुलिसकर्मी प्रेमिका ने उसे मिलने के बहाने 7 जुलाई को कोटा थाना क्षेत्र के बेलगहना बुलाया। जब सूरज गेंदले बेलगहना पहुंचा, तब उसकी कॉन्स्टेबल प्रेमिका ने अपने साथी पुलिसकर्मियों से उसकी जमकर पिटाई करवा दी। पिटाई से वह बेहोश हो गया। बेहोश होने पर उसे पीटने वाले पुलिसकर्मियों ने ही उसे घर पहुंचाया। साथ ही कहीं शिकायत करने पर जान से मारने की धमकी देते हुए किसी झूठे पुलिस केस में फंसा कर जेल भेज देने की चेतावनी दी। डर के चलते युवक चार दिन तक चुप रहा। फिर मंगलवार को हिम्मत जुटाकर उसने एसपी दफ्तर पहुंचकर इस मामले में पुलिस अधीक्षक के नाम लिखित शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है।

सूरज गेंदले के अनुसार उसकी प्रेमिका की नजदीकी किसी अन्य युवक से बढ़ गई है, जिसके चलते वह अब उसे इग्नोर कर रही है। यही वजह है कि उसकी प्रेमिका ने उसे अपने साथी पुलिसकर्मियों से पिटवाया। जिससे वह घबराया हुआ है। उसने एसपी से कार्रवाई की मांग की है।