RO NO.....12737/20

हैवानियत: पत्नी के प्रेमी की हत्या कर शव के किए 20 टुकड़े, सिर धड़ से अलग कर पसलियों में डाला

0
184

गाजियाबाद। खोड़ा में बोरियों में मिले अक्षय के शव के टुकड़े हैवानियत की कहानी बयां कर रहे हैं। उन्हें देखकर रोंगटे खड़े होने वाले सच उजागर हुए हैं। उसने अक्षय के गुप्तांग को काट दिया था। सिर को धड़ से अलग करके उसे पसलियों में डाल दिया था। दोनों हाथ और पैर काटकर अलग कर दिए थे। पुलिस ने टुकड़ों को बंटोर कर पोस्टमार्टम व अन्य जांचों के लिए भेजा है।

RO NO.....12737/20

दो साल पहले भागे थे
पुलिस ने बताया कि अक्षय और पूनम पूर्व में इंदिरापुरम में काम करते थे। वहीं पर दोनों की जान पहचान हुई थी। करीब दो साल पहले दोनों भाग गए थे। उसके पति ने पुलिस से शिकायत की थी। दोनों राजस्थान से बरामद हुए थे। बच्चों की वजह से उसने पूनम को फिर से अपने साथ रख लिया था। उसके बाद से अक्षय राजस्थान में ही रहने लगा था। वह एक-दो माह में यहां आता-जाता रहता था।

बेटी के जलने से गुस्साया

पुलिस ने बताया कि पूनम मिलाल की दूसरी पत्नी है। पहली पत्नी के उसकी एक बेटी है। पूनम से दो बेटी व एक बेटा है। कुछ दिन पहले उसकी पहली पत्नी की बेटी रेखा चाय से जल गई थी। उसकी छोटी बेटी ने बताया कि अक्षय घर पर आया था। उसके लिए चाय बनाने के दौरान रेखा जली थी। पत्नी से संबंध और बेटी के जलने की बात उसे नागवार गुजरी। उसने अक्षय की हत्या करने की योजना बनाई। बृहस्पतिवार को उसे अंजाम दे दिया।

भांजे के गायब होने की दी सूचना
स्थानीय लोगों ने बताया कि शुक्रवार सुबह पूनम अस्पताल से पहुंची तो अक्षय नहीं मिला। वह घर के बाहर रोने लगी। कहा कि उसका भांजा आया था। वह गायब हो गया है। मोहल्ले वालों ने उसे पुलिस को सूचना देने की सलाह दी। उसने लोधी चौक पुलिस चौकी में इसकी जानकारी दी। पुलिस ने कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। शनिवार दोपहर तक अक्षय नहीं मिला तो पूनम फिर से घर के बाहर चीखने-चिल्लाने लगी और पुलिस कंट्रोल रूम में शिकायत की। उसके बाद पुलिस मौके पर पहुंची और मामले का राजफाश हुआ।

पुलिस भी कठघरे में

जिस स्थान पर अक्षय के शव के टुकड़े मिले हैं वह राष्ट्रीय राजमार्ग-नौ के किनारे हैं। उसके बगल से सर्विस रोड जाती है। सामने मकान बने हैं। थोड़ी दूरी पर लोधी चौक पुलिस चौकी है। इस स्थान के आसपास पुलिस की गश्त भी होती रहती है। बावजूद इसके मिलाल ने अक्षय के शव के टुकड़ों को बोरियों में भरकर बृहस्पतिवार रात में वहां फेंक दिया। बृहस्पतिवार और शुक्रवार रात, शनिवार दोपहर तक शव के टुकड़ों से भरीं बोरियां वहां पड़ी रहीं। पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लगी। इससे पुलिस की गश्त और सतर्कता की पोल खुल गई।

11 साल पहले की थी दूसरी शादी
पुलिस की जांच में आया है कि मिलाल मूल रूप से रजापुरा, संभल का रहने वाला है। उसकी पहली पत्नी की करीब 11 साल पहले मौत हो गई थी। उसके बाद उसने पूनम से शादी की थी। करीब डेढ़ साल से आदर्श नगर के विकास के मकान में परिवार के साथ किराए पर रहता था। उसके घर में पहले से ही गड़ासा रखा था।

वरिष्ठ मनोचिकित्सक डा. संजीव त्यागी के मुताबिक, पत्नी का किसी अन्य व्यक्ति से संबंध होने की बात कोई भी पुरुष सामाजिक दवाब के कारण स्वीकार नहीं करता है। वह पहले पत्नी व उस व्यक्ति को समझाने की कोशिश करता है। वह दोनों नहीं मानते हैं तो इस तरह के कदम उठा लेता है। पिछले कुछ दिनों से शव के टुकड़े करने की घटनाएं बढ़ी हैं।