Narendra Modi

12822/ 18 RO NO

मुकेश अंबानी, आनंद महिंद्रा और सुंदर पिचाई… व्हाइट हाउस के स्टेट डिनर में पहुंचीं नामचीन हस्तियां, बाइडन फैमिली ने की मेजबानी

0
172

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने दौरे के दूसरे दिन वॉशिंगटन में व्हाइट हाउस में स्टेट डिनर किया। इस मौके पर मुकेश अंबानी, सुंदर पिचाई और आनंद महिंद्रा जैसी भारतीय मूल की प्रमुख हस्तियां भी पहुंचीं। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन और फर्स्ट लेडी जिल बाइडन ने राजकीय रात्रिभोज की मेजबानी की।

स्टेट डिनर के लिए 400 से ज्यादा अतिथियों को किया गया था आमंत्रित

प्रधानमंत्री के लिए व्हाइट हाउस में रखे गए स्टेट डिनर में मुकेश अंबानी और उनकी पत्नी नीता अंबानी, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची, आनंद महिंद्रा, डॉ. दीपक मित्तल, सत्या नडेला, अनु नडेला, इंद्रा नूयी और राज नूयी भी पहुंचे। स्टेट डिनर में पीएम मोदी और जो बाइडन ने संबोधन भी दिया और दोनों देशों के बीच रिश्ते को आगे ले जाने की भी बात कही। इस रात्रिभोज में 400 से अधिक अतिथियों को आमंत्रित किया गया था।

संबोधन में क्या बोले पीएम मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि भारतीय-अमेरिकियों ने भारत और अमेरिका के संबंधों को मजबूत करने और अपने देश के समग्र विकास में अहम भूमिका निभाई है। उन्होंने डिनर के मेजबानों की सफलता और खुशी की कामना की। उन्होंने भारत और अमेरिका के मैत्रीपूर्ण रिश्तों के साथ-साथ लोगों के अच्छे स्वास्थ्य, समृद्धि एवं स्वतंत्रता, समानता और भाईचारे की भी कामना की। उन्होंने कहा, “हर गुजरते दिन के साथ दोनों देश एक दूसरे को बेहतर तरीके से जान रहे हैं। हम एक दूसरे के नाम का उच्चारण ठीक से कर सकते हैं। हम एक दूसरे के बात करने के लहजे को बेहतर तरीके से समझ सकते हैं। भारत में बच्चे हेलोवीन पर स्पाइडर मैन बनते हैं और अमेरिका में युवा नाटु-नाटु की धुन पर नाच रहे हैं।”

उन्होंने कहा कि अमेरिका को बेसबॉल पसंद है, लेकिन क्रिकेट भी यहां लोकप्रिय हो रहा है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि इस साल भारत में होने वाले क्रिकेट वर्ल्ड में क्वालीफाई करने के लिए अमेरिकी टीम पूरी कोशिश कर रही है। मैं उन्हें शुभकामनाएं देता हूं और उनकी सफलता की कामना करता हूं।

प्रधानमंत्री ने कहा, “भारतीय-अमेरिकियों ने अमेरिका में एक लंबा सफर तय किया है। उन्हें भारत के मूल्यों, लोकतांत्रिक परंपराओं और संस्कृति पर गर्व है। उन्होंने विभिन्न संस्कृतियों एवं विचारधाराओं वाले अमेरिका में एक सम्मानजनक स्थान पाया है। भारतीय-अमेरिकियों ने अमेरिका के समावेशी समाज और अर्थव्यवस्था को और मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।”

जो बाइडन ने कहा- भारत-अमेरिका के बीच रिश्तों का ये नया दौर
वहीं, जो बाइडन ने भी अपने संबोधन में दोनों देशों के रिश्तों को आगे ले जाने की बात कही है। उन्होंने कहा कि भारत-अमेरिका के बीच संबंधों का यह नया दौर है। दोनों देशों के लोग साझेदारी को नई ताकत देते हैं। प्रधानमंत्री के यूएस दौरे का आज आखिरी दिन है, वह कल यहां से मिस्त्र के लिए रवाना होंगे। उनका यह पहला मिस्त्र दौरा है और राष्ट्रपति अब्देल फत्तेह अल-सिसी के बुलावे पर वह राजकीय दौरे पर जा रहे हैं।