RO NO.....12737/20

अल्लाह हू अकबर… अजान देते चली गई 61 नमाजियों की जान, पेशावर मस्जिद का हाल देख हैरान रह जाएंगे

0
165

पाकिस्तान के पेशावर में एक मस्जिद में हुए आत्मघाती हमले में 61 लोगों की मौत हो चुकी है। इस हमले की जिम्मेदारी तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान ने ली है। इस हमले के बाद से ही पाकिस्तान में कोहराम मचा हुआ है। प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने सेना प्रमुख असीम मुनीर और खुफिया एजेंसी आईएसआई के प्रमुख नदीम अंजुम के साथ आपातकालीन बैठक भी की है।

RO NO.....12737/20

पेशावर मस्जिद हमले में अब तक 61 की मौत
पाकिस्तान में अशांत खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के पेशावर में उच्च सुरक्षा वाले क्षेत्र में खचाखच भरी एक मस्जिद में सोमवार को दोपहर की नमाज की दौरान एक तालिबानी आत्मघाती हमलावर द्वारा विस्फोट कर खुद को उड़ा लेने से कम से कम 61 लोगों की मौत हो गयी जबकि 150 से अधिक अन्य घायल हो गये।

मरने वालों में अधिकतर सेना और पुलिस के जवान
दोपहर एक बजकर करीब 40 मिनट पर पुलिस लाइन्स क्षेत्र के समीप जब नमाजी ज़ौहर (दोपहर) की नमाज पढ़े रहे थे तब अगली पंक्ति में बैठे आत्मघाती हमलावर ने विस्फोट कर खुद को उड़ा लिया। उनके अनुसार विस्फोट के बाद मस्जिद की छत नमाजियों पर गिर गयी। उनके मुताबिक नमाजियों में पुलिस, सेना और बम निष्क्रिय दस्ते के कर्मी थे।

मस्जिद में 300 से 400 लोग थे मौजूद
राजधानी शहर पुलिस अधिकारी (सीसीपीओ), पेशावर मोहम्मद एजाज खान ने कहा कि विस्फोट में 61 लोगों की मौत हुई है। उन्होंने कहा कि विस्फोट के समय इलाके में 300 से 400 पुलिस अधिकारी मौजूद थे। उन्होंने मीडिया से कहा कि यह स्पष्ट है कि सुरक्षा में चूक हुई है। मृतकों में कम से कम पांच उप-निरीक्षक और मस्जिद के इमाम मौलाना साहिबजादा नूरुल अमीन शामिल थे। लेडी रीडिंग अस्पताल के अधिकारियों ने कहा कि 150 से अधिक लोग घायल हुए हैं।

तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान ने ली हमले की जिम्मेदारी
तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान (टीटीपी) ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है। उसने कहा कि यह आत्मघाती हमला अफगानिस्तान में पिछले साल अगस्त में मार दिये गये टीटीपी कमांडर उमर खालिद खुरसानी की मौत का बदला है।

धमाके के कारण ढह गया मस्जिद का हिस्सा
एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि विस्फोट से मस्जिद का एक हिस्सा ढह गया और माना जाता है कि कई लोग उसके मलबे के नीचे दबे हैं। बचाव अभियान के प्रभारी बिलाल फैजी ने कहा कि फिलहाल हमारा ध्यान बचाव अभियान पर है। हमारी पहली प्राथमिकता मलबे में दबे लोगों को सुरक्षित बाहर निकालना है।

पाकिस्तानी पुलिस को चकमा देकर घुसा था हमलावर
पुलिस के अनुसार बम हमलावर पुलिस लाइन्स के अंदर, चार स्तरीय सुरक्षा वाली मस्जिद में घुस गया । प्रांतीय पुलिस प्रमुख मुअज्जम जाह अंसारी ने कहा है कि पुलिस विस्फोट की जांच कर रही है और यह पता लगा रही है कि बम हमलावर इस अति सुरक्षा वाली मस्जिद में कैसे घुसा।

पुलिस लाइन में पहले से मौजूद था हमलावर
उन्होंने आशंका प्रकट की कि धमाके से पहले बम हमलावर पुलिस लाइंस में रह रहा होगा क्योंकि पुलिस लाइंस के अंदर फैमिली क्वाटर्स भी हैं। पेशावर पुलिस, आतंकवाद निरोधक विभाग, फ्रंटियर रिजर्व पुलिस, इलीट फोर्स एवं संचार विभाग के मुख्यालय भी इसी विस्फोट स्थल के आसपास हैं।

पीएम शहबाज ने बुलाई आपात बैठक
प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ और सेना प्रमुख जनरल आसिम मुनीर राहत एवं बचाव अभियान की समीक्षा के लिए पेशावर पहुंचे। प्रधानमंत्री यहां सेना प्रमुख के साथ लेडी रीडिंग अस्पताल भी गये और घायलों के स्वास्थ्य के बारे में पूछताछ की। गृहमंत्री राणा सनाउल्लाह एवं अन्य अधिकारी भी इस दौरान मौजूद थे। प्रधानमंत्री ने आपात बैठक बुलायी जहां प्राथमिक जांच रिपोर्ट पेश की गयी।