RO NO.....12737/20

3 साल बाद जश्न, संकरी गली और हजारों की भीड़… हैलोवीन फेस्टिवल में ऐसे चली गईं 151 जिंदगियां

0
176

दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल के एक प्रमुख बाजार में शनिवार को हैलोवीन पार्टी के दौरान मची भगदड़ में मरने वालों की संख्या बढ़कर 151 हो गई है. यह घटना तब हुई थी जब सियोल के एक नाइटलाइफ क्षेत्र में शनिवार की रात हैलोवीन का जश्न मनाने वाली एक बड़ी संकरी गली में घुस गई. आपातकालीन अधिकारियों के अनुसार मृतकों में ज्यादातर किशोर और 20 वर्ष के युवा हैं. वहीं मरने वालों में 2 और घायलों में 15 विदेशी शामिल हैं.

RO NO.....12737/20

न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार योंगसन फायर स्टेशन के प्रमुख चोई सुंग-बीओम ने घटनास्थल पर एक ब्रीफिंग में कहा कि एक अन्य भगदड़ में सियोल के इटावन जिले में 65 लोग घायल हुए हैं. अधिकारियों ने बताया कि घायलों में से 19 की हालत गंभीर है. उनका आपातकालीन उपचार किया जा रहा है, जिससे मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है.

मालूम हो कि दक्षिण कोरिया द्वारा COVID-19 प्रतिबंध और सोशल डिस्टेंसिंग को हटाने के तीन साल बाद सियोल में यह पहला हैलोवीन कार्यक्रम था. पार्टी में जाने वालों में से कई ने मास्क और हैलोवीन की पोशाक पहन रखी थी. कुछ चश्मदीदों ने बताया कि जैसे-जैसे शाम गहरी होती गई भीड़ अनियंत्रित और उत्तेजित होती जा रही थी. घटना स्थानीय समय अनुसार रात करीब 10:20 बजे की है.

फायर स्टेशन प्रमुख चोई ने कहा कि हमें जानकारी मिली थी कि हैलोवीन उत्सव के दौरान कई लोग अचानक गिर गए. इसके साथ खबर आई कि बड़ी संख्या में लोग घायल हुए हैं. मारे गए लोगों में से कई नाइट क्लब के पास थे. चोई ने कहा कि पीड़ितों में से कई महिलाएं 20 साल की थीं.

चश्मदीदों ने भगदड़ से पहले के अराजक दृश्यों के बारे में बताया. चश्मदीदों ने बताया कि पुलिस हैलोवीन कार्यक्रम के दौरान कई बार भीड़ पर नियंत्रण बनाए रखने में नाकाम रही. 21 वर्षीय मून जू-यंग ने कहा कि घटना से पहले गलियों में भगदड़ होने के स्पष्ट संकेत दिख रहे थे. यह सामान्य से कम से कम 10 गुना अधिक भीड़ थी.

एक सोशल मीडिया फुटेज में दिख रहा है कि संकरी, ढलान वाली गली में फंसे सैकड़ों लोग कुचले हुए थे. वहीं आपातकालीन अधिकारी और पुलिस उन्हें निकालने की कोशिश कर रहे थे. योंगसन जिला अग्निशमन प्रमुख चोई ने कहा कि सभी मौतें एक ही संकरी गली में कुचलने से हुई.

एक अन्य फुटेज में दमकल अधिकारियों और नागरिकों को बेहोश होने के बाद दर्जनों लोगों का इलाज करते हुए देखा जा सकता है. दमकल अधिकारियों और प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि लोगों ने उस संकरी गली में जाना जारी रखा जो पहले से ही भरी हुई थी. एक ढलान पर लोग एक दूसरे पर गिर गए जिसके बाद अफरातफरी मच गई.

यह आपदा 2014 में एक नाव के डूबने के बाद से देश की सबसे घातक घटनाओं में से एक है. नाव डूबने की घटना में 304 लोग मारे गए थे, जिनमें मुख्य रूप से हाई स्कूल के छात्र थे. घटना के बाद राष्ट्रपति यूं सुक-योल ने वरिष्ठ सहयोगियों के साथ एक आपातकालीन बैठक की अध्यक्षता की और घायलों के इलाज के लिए संसाधनों को सुरक्षित करने और आपदा के कारणों की गहन जांच शुरू करने के लिए एक टास्क फोर्स का गठन करने का आदेश दिया.