अंबाला में ट्रक की सवारी करते दिखे राहुल गांधी, ड्राइवरों से मिलकर जानी उनकी समस्याएं

0
142

कर्नाटक विधानसभा चुनाव में जीत के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ट्रक की सवारी करते नजर आए. राहुल गांधी दिल्ली से शिमला के लिए रवाना हुए थे. रास्ते में उन्होंने अंबाला से चंडीगढ़ तक ट्रक में यात्रा की. कांग्रेस के तमाम कार्यकर्ताओं और नेताओं ने राहुल का ट्रक में यात्रा करते हुए वीडियो शेयर किया.

बताया जा रहा है कि वीडियो सोमवार रात का है. कांग्रेस कार्यकर्ताओं के मुताबिक, राहुल ने अंबाला में ट्रक ड्राइवरों से मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने ड्राइवरों के मुद्दों और उनकी समस्याओं को भी समझने की कोशिश की. राहुल का ये वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है.

राहुल गांधी के साथ देश चल पड़ा- सुप्रिया श्रीनेत

कांग्रेस नेता सुप्रिया श्रीनेत ने राहुल का वीडियो शेयर किया है. उन्होंने लिखा, यूनिवर्सिटी के छात्रों से, खिलाड़ियों से , सिविल सर्विस की तैयारी कर रहे युवाओं से , किसानों से , डिलीवरी पार्टनरों से , बस में आम नागरिकों से और अब आधी रात को ट्रक के ड्राइवर से आखिर क्यों मुलाकात कर रहे हैं राहुल गांधी? क्योंकि वो इस देश लोगों की बात सुनना चाहते हैं, उनकी चुनौतियों और परेशानियों को समझना चाहते हैं. उनको ऐसा करते देख एक विश्वास सा झलकता है, कोई तो है जो लोगों के साथ खड़ा है, कोई तो है जो उनके बेहतर कल के लिए किसी भी तरह की कुर्बानी देने को तैयार है. कोई तो है जो नफरत के बाजार में मोहब्बत की दुकान खोल रहा है. और धीरे धीरे यह एहसास हो रहा है कि यह देश लौट जाना चाहता है मोहब्बत और अमन के रास्ते पर, धीरे से यह देश आखिर चल ही पड़ा है राहुल गांधी के साथ .

इससे पहले राहुल गांधी ने नए संसद भवन के उद्घाटन के मुद्दे पर पीएम मोदी पर निशाना साधा था. राहुल ने ट्वीट कर कहा था, नए संसद भवन का उद्घाटन प्रधानमंत्री को नहीं करना चाहिए. नए संसद भवन का उद्घाटन राष्ट्रपति को करना चाहिए. दरअसल, नए संसद भवन का निर्माण कार्य पूरा हो गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, वीर सावरकर की जयंती पर 28 मई को देश की नई संसद का उद्घाटन करने वाले हैं. लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने पीएम मोदी के 28 मई को संसद भवन का उद्घाटन करने की जानकारी दी थी.

राहुल ने निकाली थी भारत जोड़ो यात्रा

इससे पहले राहुल गांधी ने देशभर में भारत जोड़ो यात्रा निकाली थी. यह यात्रा 7 सितंबर को कन्याकुमारी से शुरू हुई थी. यात्रा 12 राज्यों से होकर गुजरी थी और जनवरी में जम्मू कश्मीर में खत्म हुई थी. राहुल ने 136 दिन की इस यात्रा में 4000 किलोमीटर से ज्यादा दूरी तय की थी.