इस बैंक ने 3645 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया, हर शेयर पर देगी इतने रुपये का डिविडेंड

0
148

आईडीबीआई बैंक ने शनिवार को कहा कि उसने वित्त वर्ष 2023 में लगभग 3,645 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ कमाया है. बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने प्रति इक्विटी शेयर 1 रुपये के डिविडेंड की सिफारिश की है. आईडीबीआई बैंक ने शेयर बाजार को बताया कि उसके बोर्ड ने नेशनल सिक्योरिटीज डिपॉजिटरी लिमिटेड की चुकता शेयर पूंजी के 0.01 फीसदी की अतिरिक्त हिस्सेदारी के विनिवेश को मंजूरी दे दी है. इसके साथ एनएसडीएल की चुकता शेयर पूंजी के 11.11 फीसदी तक बैंक की हिस्सेदारी का कुल विनिवेश है.

बैंक की प्रोविजनिंग का आंकड़ा ऐसा रहा
पिछले वित्त वर्ष में आईडीबीआई बैंक ने लगभग 24,941.76 करोड़ रुपये की कुल आय हासिल की है, जबिक वित्त वर्ष 2022 में ये 22,981.80 करोड़ रुपये थी. वित्त वर्ष 2023 में कुल लाभ 3,645 करोड़ रुपये अर्जित किया गया. जबकि पिछले वित्त वर्ष में 2,439.27 करोड़ रुपये था. समीक्षाधीन अवधि के दौरान टैक्स को छोड़कर अन्य मदों में किया गया प्रावधान 3,497.86 करोड़ रुपये रहा था. जो पिछले वित्त वर्ष में 3,886.54 करोड़ रुपये था.

बैंक के ग्रॉस एनपीए में आई अच्छी खासी गिरावट
31 मार्च 2023 को बैंक का ग्रोस एनपीए लगभग 10,969.29 करोड़ रुपये रहा, जबकि 31 मार्च 2022 तक यह 34,114.83 करोड़ रुपये था और शुद्ध एनपीए लगभग 1,494.74 करोड़ रुपये हो गया है जो एक साल पहले 1,863.51 करोड़ रुपये था.

वित्त वर्ष 2023 की आखिरी तिमाही यानी जनवरी-मार्च में बैंक का शुद्ध मुनाफा 64 फीसदी बढ़कर 1,133 करोड़ रुपये रहा है. वहीं पूरे वित्त वर्ष में ये 3,645 करोड़ रुपये रहा है, जो बैंक का कमाया अब तक का सबसे ज्यादा मुनाफा है. इसके अलावा बैंक हर शेयर होल्डर को 10 फीसदी का डिविडेंड देने जा रहा है, यानी 10 रुपये की फेस वैल्यू वाले हर शेयर पर 1 रुपये के हिसाब से आईडीबीआई बैंक अपने निवेशकों को 1 रुपये प्रति शेयर का डिविडेंड देने जा रहा है.