Narendra Modi

12822/ 18 RO NO

तो क्या छत्तीसगढ़ में भाजपा चलने वाली है बड़ी चाल, कांग्रेस ने कहा – षड़यंत्र कामयाब नहीं होने देंगे

0
246

रायपुर । भाजपा प्रदेश प्रभारी ओम माथुर ने 2023 में कम विधायक होने पर भी सरकार बनाने का दावा किया है, कांग्रेस का कहना है कि हम इसकी निंदा करते हैं। प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा प्रभारी ओम माथुर के बयान से स्पष्ट हो गया है कि भाजपा लोकतंत्र विरोधी है। जनमत का सम्मान नहीं करती है बल्कि सत्तालोलुपता में केंद्रीय शक्तियों का दुरुपयोग कर ईडी, सीबीआई, आईटी एवं राजभवन के पीछे खड़े होकर सत्ता हथियाने की साजिश रचती है। माथुर जी मुगालते में छत्तीसगढ़ की जनता भाजपा को कोई भी षडयंत्र करके सरकार बनाने लायक नहीं छोड़ेगी। ईडी, सीबीआई की पैतरेबाजी छत्तीसगढ़ में नहीं चलने वाली।

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा प्रदेश प्रभारी ओम माथुर के बयान से स्पष्ट हो गया कि प्रदेश में भाजपा के पास मुद्दा नहीं है। भाजपा के पास छत्तीसगढ़ को लेकर कोई योजना नहीं है, कोई रोड मैप नहीं है। वह सिर्फ और सिर्फ संवैधानिक संस्थाओं का दुरुपयोग कर 2023 में लोकतंत्र की हत्या कर सरकार बनाने का षड्यंत्र कर रही है। प्रदेश की जनता ओम माथुर के बयान को सुनी है और ऐसा लगता है। भाजपा अब 14 सीट भी बचाने में नाकामयाब रहेगी छत्तीसगढ़ में लोकतंत्र प्रभावी है। यहां मोदी शाह की तानाशाही नहीं चलेगी।

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि भाजपा 15 साल के रमन शासनकाल की कमीशनखोरी भ्रष्टाचार की महापाप महाघोटाला से बच नहीं सकती। आज भी प्रदेश की जनता रमन सरकार के दौरान हुए महा घोटालों को देख रही है। अब भाजपा नेताओ को भी 2023 के विधानसभा चुनाव के पहले रमन सरकार की कमीशनखोरी, भ्रष्टाचार, झीरम घाटी कांड, ऑंखफोड़वा कांड, गर्भाशय कांड, किसानों, आदिवासियों, शिक्षाकर्मियों, नर्स बहनों, छात्रों के ऊपर लाठीचार्ज की घटना याद आ रही है उस दौरान हुए किसानों की आत्महत्या की घटना एवं रमन सरकार की वादाखिलाफी से डरी हुई है और जनता के बीच जाने से घबरा रही है इसीलिए ओम माथुर अभी से भाजपा की कम सीटे आने का दावा कर रहे।

प्रदेश कांग्रेस संचार विभाग के अध्यक्ष सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि 2018 में प्रदेश की जनता भी भाजपा के इस लोकतंत्र विरोधी चरित्र को पहचान चुकी थी। इसलिए कांग्रेस को 68 सीट देकर एक पूर्ण और मजबूत बहुमत की सरकार बनाने का अवसर दी और कांग्रेस की सरकार 4 साल से जनता के हित में अनेक जनकल्याणकारी फैसले की है। जनता से किए गए वादों में 90 प्रतिशत वादों को पूरा करने काम की है। इसीलिए प्रदेश में नगरी निकाय के चुनाव विधानसभा के उपचुनाव जिला पंचायतों के चुनाव में भाजपा को मुंह की खानी पड़ रही है। आज 68 सीट के बाद कांग्रेस 71 सीट में है और भाजपा 14 सीट में है। आने वाले चुनाव में भाजपा दहाई के अंक तक नहीं पहुंचेगी।