सिख समाज अध्यक्ष और उनके बेटे की मौत, बहू गंभीर, पोती की शादी का कार्ड बांटने जा रहे थे

0
309

छत्तीसगढ़ के राजनांदगांव में शनिवार को हुए सड़क हादसे में डोंगरगढ़ सिख समाज के अध्यक्ष हरभजन सिंह भाटिया (75) और उनके बेटे परमजीत सिंह भाटिया (45) की मौत हो गई। जबकि उनकी बहू गुरमीत सिंह भाटिया गंभीर रूप से घायल है। उसे रायपुर रेफर किया गया है। हरभजन सिंह अपनी पोती की शादी का कार्ड बांटने के लिए निकले थे। हादसा कोतवाली क्षेत्र में नेशनल हाईवे-53 पर तेज रफ्तार कार के पेड़ से टकराने के चलते हुआ है।

जानकारी के मुताबिक, डोंगरगढ़ निवासी हरभजन सिंह स्थानीय सिख समाज के अध्यक्ष थे और मेडिकल व्यवसाय करते थे। वह शनिवार दोपहर करीब एक बजे अपने बेटे परमजीत और बहू गुरमीत के साथ कार से निकले थे। अभी वे पीटीएस के पास नेशनल हाईवे पर पहुंचे थे कि कार अनियंत्रित हो गई और सड़क से नीचे उतरकर पेड़ से जा टकराई। टक्कर इतनी जोरदार थी कि कार के आगे का हिस्सा बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। वहीं हरभजन सिंह की मौके पर ही मौत हो गई।

हादसा होते देख आसपास के लोगों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने घायल परमजीत और उनकी पत्नी गुरमीत को राजनांदगांव मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया। वहां दोनों की हालत गंभीर देख रायपुर रेफर किया गया। जहां उपचार के दौरान परमजीत ने दम तोड़ दिया। फिलहाल पूरे मामले में पुलिस जांच कर रही है। बताया जा रहा है कि हरभजन सिंह बेटे और बहू के साथ डोंगरगढ़ से राजनांदगांव शादी का कार्ड बांटने के लिए निकले थे।