आईपीएल से ठीक पहले नियमों में हुआ बड़ा बदलाव, टीमों को प्लेइंग 11 से जुड़ी मिली ये छूट

0
200

इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) 2023 का सीजन शुरू होने में अब 10 दिन से भी कम का समय बचा है. आगामी सीजन के नियमों को लेकर काफी कुछ बड़े बदलावों का भी एलान किया गया है. अब कप्तानों को टॉस के बाद अपनी प्लेइंग इलेवन को चुनने का अधिकार दिया गया है, ताकि वह गेंदबाजी या फिर बल्लेबाजी फैसला आने के बाद अपनी टीम का चयन कर सकता है.

आईपीएल के आगामी सीजन की शुरुआत 31 मार्च से होगी जिसमें पहला मुकाबला गतविजेता गुजरात टाइटंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच में खेला जाएगा. ईएसपीएन क्रिकइंफो की खबर के अनुसार इस सीजन में टॉस के बाद कप्तानों को अपनी प्लेइंग इलेवन चुनने का अधिकार दिया जाएगा, ताकि वह पहले गेंदबाजी या बल्लेबाजी को ध्यान में रखते हुए अपनी टीम का चुनाव कर सके और इम्पैक्ट प्लेयर का प्रभाव भी उसी अनुसार देखने को मिलेगा.

इसके अलावा 2 अन्य नियमों जिसमें आगामी सीजन में बदलाव देखने को मिलेगा वह यदि कोई टीम तय समय में अपने ओवर पूरे नहीं करती है तो अतिरिक्त समय में फेंके जाने वाले ओवर्स के दौरान 30 गज के बाहर सिर्फ 4 फील्डर्स ही लगाए जा सकेंगे. वहीं यदि मैच के दौरान विकेटकीपर या फिर कोई फील्डर गलत तरीके से हिलता डुलता तो अंपायर डेड बॉल घोषित करने के साथ 5 पेनाल्टी रन भी विपक्षी टीम को दे देगा.

पहली बार आईपीएल में देखने को मिलेगा इम्पैक्ट प्लेयर नियम

आईपीएल के इतिहास में आगामी सीजन में काफी कुछ चीजें फैंस को पहली बार देखने को मिलेंगी, जिसमें एक इम्पैक्ट प्लेयर का नियम भी पहली बार देखने को मिलेगा. टॉस के बाद दोनों ही टीम के कप्तानों को 4 सब्स्टीट्यूट खिलाड़ियों के नाम देने होंगे जिसे वह मैच के दौरान इम्पैक्ट खिलाड़ी के तौर पर चुन सकेंगे.

हालांकि इम्पैक्ट प्लेयर का प्रयोग टीमों को 14 ओवर खत्म होने से पहले लाना होगा. वहीं जो खिलाड़ी इम्पैक्ट प्लेयर के बदले बाहर जाएगा, वो फिर उस मैच में दोबारा नहीं खेल सकेगा. वह प्लेयर सब्स्टीट्यूट प्लेयर बनकर भी नहीं लौट सकेगा.