कहीं बूथ लूटा तो कहीं हुई आगजनी, गोलीबारी में अब तक आठ लोगों की मौत, जानिए सब बड़ी बातें

0
119

दिल्ली: पश्चिम बंगाल में आज पंचायत चुनाव को लेकर वोटिंग हो रही है। चुनावों को शांति से करवाने के लिए राज्य में सुरक्षा बलों की तैनाती की गई है, लेकिन इसके बावजूद कई इलाकों से हिंसा की खबरें सामने आई है।

कूचबिहार और मुर्शिदाबाद में टीएमसी और कांग्रेस कार्यकर्ताओं में झड़प के साथ राज्य में 8 लोगों की मौत हो चुकी है। कई इलाकों में तनाव की स्थिति उत्पन्न हो गई है।

चुनाव के बीच कई जगह तोड़फोड़ और तो कई जगह बूथ लूटने की सूचना मिली है। आइए, 10 प्वाइंट में जानें बंगाल पंचायत चुनाव का अपडेट…

बंगाल में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव आज सुबह 7 बजे जैसे ही शुरू हुआ, बड़े स्तर पर हिंसा की घटनाएं सामने आने लगी। राज्य में ग्राम पंचायत, जिला परिषद व पंचायत समिति की करीब 74,000 सीटों के लिए मतदान हो रहा है और विभिन्न जिलों से हिंसा और बूथ लूटने जैसी खबरें सामने आ रही है। मुर्शिदाबाद व कूचबिहार में मतदान शुरू होते ही बड़े पैमाने पर हिंसा हुई। कूचबिहार में भाजपा के पोलिंग एजेंट की हत्या कर दी गई और मतदान केंद्र में तोड़फोड़ व आगजनी हुई। कलकत्ता हाई कोर्ट के निर्देश पर चुनाव के लिए 822 कंपनी केंद्रीय बलों की तैनाती के बावजूद मतदान शुरू होने से पहले बीती रात से लेकर अब तक हिंसा में 8 लोगों की मौत की खबर है, जबकि दर्जनों लोग बम-गोली से जख्मी हुए। मुर्शिदाबाद के रानीनगर में माकपा और तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच झड़प में 24 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। मेदिनीपुर जिले के नंदीग्राम निवासियों ने चुनाव का बहिष्कार करने का एलान किया, उन्होंने टीएमसी पर बूथ कैपचरिंग का आरोप लगाया। उत्तर 24 परगना के बासुदेबपुर में मतदान केंद्र का दौरा करते समय आज राज्यपाल सीवी आनंद बोस को कुछ सीपीआई (एम) उम्मीदवारों ने रोक लिया। उन्होंने राज्यपाल को अपनी समस्याएं बताई। मुर्शिदाबाद के रेजीनगर पुलिस स्टेशन के अंतर्गत बेलडांगा दो ब्लाक में स्थानीय तृणमूल कांग्रेस नेता यासीन शेख और डोमकल में कांग्रेस कार्यकर्ता शाहबुद्दीन शेख की हत्या कर दी गई है। मालदा जिले में भी कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच झड़प की खबर है। बता दें कि आठ जुलाई यानी आज मतदान होने की घोषणा से पहले चुनावी हिंसा में कुल 27 लोग मारे जा चुके हैं। वोटों की गिनती 11 जुलाई को होगी।