Narendra Modi

12822/ 18 RO NO

जगदलपुर में मशाल जलाने के दौरान NSUI के छह कार्यकर्ता बुरी तरह झुलसे, दो रायपुर रेफर

0
145

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस (Congress) कमेटी के आह्वान पर शुक्रवार देर शाम पूरे प्रदेश में राहुल गांधी (Rahul Gandhi) की संसद सदस्यता समाप्त करने के विरोध में मशाल शांति मार्च निकाला गया. जगदलपुर (Jagdalpur) में देर शाम मशाल मार्च (Torch March) निकाला गया. इसी बीच मशाल जलाते वक्त इस रैली में शामिल एनएसयूआई (NSUI) के छह कार्यकर्ता आग से बुरी तरह झुलस गए. बताया जा रहा है कि मशाल में स्प्रिट डालने के दौरान आग तेजी से फैला. इस आग ने वहीं खड़े छह कार्यकर्ताओं को अपनी चपेट में ले लिया.

दो छात्र बुरी तरह झुलसे
इस आग से दो कार्यकर्ताओं के चेहरे बुरी तरह से झुलस गए. अन्य तीन कार्यकर्ताओं के शरीर भी आग के चपेट में आए. एक छात्र के हाथ में मामूली चोट आई है. घटना के तुरंत बाद सभी झुलसे कार्यकर्ताओं को शहर के महारानी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनका इलाज जारी है, वही गंभीर रूप से झुलसे दो कार्यकर्ताओं को रायपुर रेफर करने की तैयारी की जा रही है.

जगदलपुर में निकाल रहे थे मार्च
जानकारी हो कि जगदलपुर में भी देर शाम शहर के कांग्रेस भवन से लेकर शहीद अमर जवान चौक तक कांग्रेस के जिला अध्यक्ष राजीव शर्मा, जगदलपुर के विधायक व संसदीय सचिव रेखचंद जैन और चित्रकोट के विधायक राजमन बेंजाम के नेतृत्व में मार्च निकाला जा रहा था. इसी बीच मशाल जलाते वक्त यह घटना हो गई.

मौके पर मौजूद थे 60 लोग
कांग्रेसी नेताओं से मिली जानकारी के मुताबिक इस मशाल मार्च में बस्तर के दो विधायक कांग्रेस जिलाध्यक्ष जगदलपुर की महापौर और कांग्रेस के कार्यकर्ता और एनएसयूआई, यूथ कांग्रेस के छात्र कुल मिलाकर 60 से अधिक लोग थे. मार्च कांग्रेस भवन से निकला, इसके बाद सिरासार शहर के अमर जवान चौक पहुंचने के पहले ही संजय मार्केट में कुछ कार्यकर्ताओं ने बुझी हुई मशालें जलाने की कोशिश की. इसी दौरान आग में स्प्रिट डालने से आग तेजी से फैली और 6 कार्यकर्ताओं को चपेट में ले लिया. वहां मौजूद सभी कार्यकर्ताओं ने तुरंत आग पर काबू पाने की कोशिश की. इस कारण बड़ा हादसा होने से टल गया.

कार्यकर्ताओं को तुरंत पहुंचाया गया अस्पताल
आग में झुलसे कार्यकर्ताओं को तुंरत अस्पताल पहुंचाया गया. अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ. संजय प्रसाद ने बताया कि कुल 6 छात्र आग की चपेट में आए हैं. इनमें से दो के चेहरे बुरी तरह से झुलस गए हैं. एक छात्र 35 प्रतिशत तक झुलस चुका है. दूसरा छात्र भी 25 प्रतिशत झुलस चुका है. इन दोनों को बेहतर इलाज के लिए रायपुर रेफर किया गया.