बात करना बंद करने पर छात्रा की गोली मारकर कर दी हत्या, गिरफ्तार आरोपी ने पुलिस से छीनी पिस्तौल

0
161

उत्तर प्रदेश के जालौन (Jalaun) जिले के एट के कोटरा चौराहे के पास दो मोटरसाइकिल सवार युवकों ने सोमवार को कॉलेज छात्रा की गोली मारकर हत्या (Murder) कर दी. एक हमलावर को गिरफ्तार कर लिया गया है. पुलिस (Jalaun Police) ने इसकी जानकारी दी. उन्होंने बताया कि राज अहिरवार उर्फ आतिश और रोहित उर्फ गोविंदा ने सोमवार को कोटरा चौराहे पर बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा रोशनी (21) की कथित तौर पर गोली मारकर हत्या कर दी, जब वह यहां राम लखन पटेल कॉलेज में परीक्षा देकर घर लौट रही थी.

पुलिस अधीक्षक ईराज राजा ने बताया कि सोमवार को रोशनी परीक्षा में शामिल होने आयी थी, परीक्षा से निकलने के बाद पूर्वाह्न लगभग साढ़े 11 बजे जैसे ही वह कोटरा चौराहे पर पहुंची कि पहले से घात लगाए मोटरसाइकिल सवार युवकों ने युवती पर गोली चला दी, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी. उन्होंने बताया कि गोली मारने के बाद आरोपी मोटरसाइकिल से फरार हो गए. उन्होंने बताया कि युवती के पिता ने एक आरोपी राज अहिरवार के खिलाफ मामला दर्ज कराया है तथा पुलिस ने घेराबंदी कर आरोपी राज को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस अधीक्षक ने बताया गिरफ्तार किए गए आरोपी से पूछताछ की जा रही है.

आरोपी ने क्या बताया
पुलिस अधीक्षक ईराज राजा ने जांच के लिए चार टीम गठित की थी. जांच के बाद जो तथ्य सामने आए उसके आधार पर पुलिस अधीक्षक ने बताया कि नामजद आरोपी राज अहिरवार ने गिरफ्तारी के बाद पूछताछ में बताया कि उसने पहचान छिपाने के लिए मोटरसाइकिल की नंबर प्लेट एक झाड़ी में छिपा दी और घटना के समय प्रयुक्त कपड़ों को भी एक नदी में फेंक दिया है. आरोपी ग्राम जमरेही, कोतवाली कदौरा का निवासी है.

पुलिस से छीनी पिस्तौल
एसपी ने बताया कि आरोपी की निशानदेही पर जब पुलिस बल और कोतवाली प्रभारी अवधेश कुमार सिंह उक्त जगह पर नंबर प्लेट बरामद करने के लिए जा रहे थे, इसी समय मौका पाकर आरोपी राज ने प्रभारी निरीक्षक की पिस्तौल छीन ली और गोली चलाने का प्रयास किया. हालांकि, पुलिस ने तुरंत कार्रवाई की और उस पर गोली चला दी जिससे वह घायल हो गया. आरोपी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

बात बंद करने से था परेशान
एसपी राजा ने बताया जांच के बाद यह पता चला है कि रोशनी और आरोपी राज एक साल से अधिक समय से संपर्क में थे. चूंकि दोनों एक ही जाति से थे इसलिए उनके परिजन उनकी शादी के लिए सहमत हो गए, लेकिन दो महीने पहले रोशनी ने आरोपी से बात करना बंद कर दिया, जिससे वह परेशान हो गया था. पुलिस ने कहा कि लड़की से मिलने में विफल रहने के बाद उसने यह कदम उठाया और रोशनी की अवैध तमंचे से गोली मार कर हत्या कर दी.