Narendra Modi

12784/20 RO NO

जम्मू-कश्मीर के राजौरी में 5 जवान शहीद, मुठभेड़ के दौरान हुआ बड़ा धमाका, कार्रवाई जारी

0
143

जम्मू-कश्मीर के राजौरी में सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच शुक्रवार को मुठभेड़ हो गई. इस दौरान विस्फोट में सेना के पांच जवान शहीद हो गए हैं. एक जख्मी जवान का अभी इलाज चल रहा है. वहीं कुछ आतंकियों के मारे जाने का भी अनुमान है. फिलहाल इलाके में ऑपरेशन जारी है. सुरक्षा के लिहाज से जिले में इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया है.

जानकारी के मुताबिक खराब मौसम और लगातार बारिश के बीच यह मुठभेड़ राजौरी जिले के घने जंगलों वाले कंडी इलाके में हो रही है. जम्मू क्षेत्र में भाटा धूरियन के तोता गली इलाके में आतंकियों ने सेना के जवानों पर घात लगाकर हमला कर दिया था, जिसके बाद यह इलाके में छुपे आतंकियों को बाहर निकालने के लिए लगातार यह ऑपरेशन जारी है.

मुठभेड़ में दो जवान मौके पर शहीद हो गए थे और मेजर समेत चार घायल हो गए थे. उन्हें इलाज के लिए हेलिकॉप्टर से रेस्क्यू किया गया. बाद में उधमपुर के एक अस्पताल में इलाज के दौरान तीन और जवानों ने दम तोड़ दिया. इस ऑपरेशन में सेना के कुल 5 जवान शहीद हो गए हैं.

उधमपुर में सेना के एक प्रवक्ता ने बताया कि अभियान अभी भी जारी है. राजौरी सेक्टर में चल रहे ऑपरेशन में सुबह गंभीर रूप से घायल हुए तीन सैनिकों ने दम तोड़ दिया है. राजौरी इलाके में मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है.

3 मई से चल रहा इलाके में सर्च ऑपरेशन

राजौरी सेक्टर के कंडी जंगल में आतंकवादियों की मौजूदगी की विशेष सूचना पर 3 मई को एक संयुक्त अभियान शुरू किया गया था. 5 मई को सुबह करीब 7:30 बजे एक खोज दल को गुफा में छुपे आतंकवादियों की जानकारी हुई. यह गुफा खड़ी चट्टानों में बनी है. सेना के जवानों ने जब वहां पहुंचकर उन्हें बाहर निकालने की कोशिश की तो उन्होंने बम धमाका कर दिया.

इसके बाद आस-पास से सेना की और टीमों को मुठभेड़ स्थल पर बुला लिया गया. वहीं जख्मी जवानों को हेलिकॉप्टर से उधमपुर कमांड अस्पताल पहुंचा दिया गया है.ऐसी सूचना है कि इलाके में आतंकियों का एक समूह फंसा हुआ है. वहीं अनुमान है कि मुठभेड़ में कुछ आतंकी भी मारे गए हैं. फिलहाल ऑपरेशन जारी है.

बारामूला में दो आतंकी ढेर, सर्च ऑपरेशन जारी

जम्मू कश्मीर के बारामूला में वनिगम पयीन क्रीरी इलाके में मुठभेड़ के दौरान सुरक्षाबलों ने गुरुवार को दो आतंकवादियों को मार गिराया. सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर ली है और सर्च ऑपरेशन तेज कर दिया है. इससे पहले बुधवार को भी दो आतंकवादियों को मार गिराए गए थे. ये नियंत्रण रेखा के समीप से घुसपैठ की कोशिश कर रहे थे.

एडीजीपी कश्मीर ने मारे गए आतंकियों के बारे में बताया कि, ‘दोनों स्थानीय आतंकवादी हैं, प्रतिबंधित आतंकी संगठन लश्कर से जुड़े हुए हैं. इनकी पहचान शोपियां जिले के शाकिर माजिद नजर और हनान अहमद सेह के रूप में हुई है. दोनों मार्च 2023 में आतंकी बने थे.’

घाटी में 50 आतंकी सक्रिय
केंद्रीय एजेंसियों के मुताबिक, घाटी में अभी 50 सक्रिय आतंकी, 20-24 विदेशी आतंकी और 30-35 आतंकी स्थानीय हैं. डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया कि हमने चारों तरफ से आतंक के इको सिस्टम को घेर लिया है. चाहे वह पत्थरबाजों पर कार्रवाई हो या अलगाववादी, फाइनेंसरों पर कार्रवाई हो या सीमा पार से ड्रोन के जरिए आने वाले हथियारों को जब्त करना हो. साल 2017 में जब आतंकियों की संख्या 350 थी, अब उनकी संख्या दहाई में आ गई है.