Narendra Modi

12784/20 RO NO

भारत जनवरी में पक्का देखेगा नई लहर? AIIMS के डॉ. ने कहा- अगले 40 दिन करें सिर्फ ये काम

0
202

स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने चीन में बढ़ रहे ओमिक्रॉन बीएफ.7 वैरिएंट (Omicron BF.7 in India) का असर भारत में हल्का बताया था। लेकिन केस बढ़ने के बावजूद चीन ने ट्रैवल करने के लिए अपनी सीमाएं खोल दी हैं। इसका असर सबसे पहले भारत में दिख सकता है और जनवरी में कोविड की नई लहर आ सकती है। ऐसा सरकारी अधिकारियों का मानना है।

भारत में अगले 40 दिन में बढ़ेंगे कोविड-19 के मामले?TOI की रिपोर्ट के मुताबिक, अगले 40 दिन भारत के लिए महत्वपूर्ण होने वाले हैं। क्योंकि, अभी कोविड-19 के मामलों में हल्की बढ़त देखने को मिल रही है, जो अगले 40 दिन में बड़े स्तर पर पहुंच सकती है। इन आशंकाओं को देखते हुए हर राज्य ने तैयारी शुरू कर दी है।

भारत में जनवरी लाएगा कोविड की चौथी लहर?

स्वास्थ्य अधिकारी जनवरी के दौरान भारत में आने वाली कोविड की चौथी लहर की आशंका पिछले आंकड़ों के अनुसार जता रहे हैं। TOI की दूसरी रिपोर्ट के मुताबिक, कोरोना की पिछली लहरों में देखा गया है कि ईस्ट एशिया में कोविड के केस बढ़ने के 30-35 दिन बाद भारत में भी हालत नाजुक हो जाते हैं।

AIIMS के Dr. ने बताया क्या करें?

AIIMS के यूरोलोजिस्ट अनूप कुमार ने बताया कि कोविड-19 के बढ़ते मामलों को लेकर WHO और भारत सरकार ने दिशा-निर्देश दिए हैं। इसके अलावा, सरकार अपने स्तर पर काम कर रही है। बस जनता को सरकार का सहयोग देना है। ऐसा करने से कोविड-19 के मामलों को बढ़ने से रोका जा सकता है।

ये है अच्छी खबर

डॉ. अनूप कुमार ने आगे कहा कि ओमिक्रॉन के पुराने या नया वैरिएंट भारत में चीन जैसे हालात शायद पैदा ना कर पाए। यह अच्छी खबर है कि भारतीयों में हर्ड इम्युनिटी बन चुकी है, जो चीन में जीरो कोविड पोलिसी के कारण नहीं बन पाई थी।

भारत में इन 7 लक्षणों पर रखें नजर

भारत में ओमिक्रॉन के हल्के लक्षण देखने को मिल सकते हैं। लेकिन इसे रोकने के लिए इन 7 लक्षणों पर बारीकी से नजर बनाए रखना जरूरी है। जिसमें बुखार, नाक बहना, थकान, शरीर में दर्द, सिरदर्द, गले में खराश, खांसी आदि शामिल है। हालांकि, इनके अलावा भी कुछ लक्षण दिख सकते हैं।

मास्क और वैक्सीन हैं घातक हथियार

सभी हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, कोरोना के किसी भी वैरिएंट से लड़ने का सबसे घातक हथियार मास्क और वैक्सीन है। इन दोनों की मदद से हम वायरस के संक्रमण और प्रसार को रोक सकते हैं। इसलिए घर से बाहर निकलने पर मास्क का प्रयोग जरूर करें और समय पर बूस्टर डोज लगवाएं।