मुकेश अंबानी ने माइक्रोसॉफ्ट और गूगल CEO को पछाड़ा, दुनिया में अब दूसरे नंबर पर

0
224

एशिया के दूसरे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) के छोटे बेटे की सगाई गुरुवार को हुई, तो वहीं एक और खुशखबरी उनके लिए आई. दरअसल, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन को Brand Guardianship Index 2023 में भारत में पहले और दुनिया में दूसरे पायदान पर रखा गया है. उन्होंने माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ भारतवंशी सत्या नडेला (Satya Nadela) और गूगल के भारतीय मूल के सीईओ सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) को भी पीछे छोड़ दिया है.

इस Ranking की ग्लोबल मान्यता
बता दें यह इंडेक्स ब्रांड फाइनेंस द्वारा यह तैयार किया जाता है. ब्रांड गार्जियनशिप इंडेक्स सीईओ की ग्लोबल मान्यता है. ब्रांड फाइनेंस की ओर से कहा गया कि हमने एक संतुलित सूचकांक बनाया है. इसमें कंपनी में कार्य करने की कंपनियों के सीईओ की क्षमताओं और दीर्घकालिक स्तर पर शेयरधारक मूल्य को आगे बढ़ाने में भूमिका का आकलन किया गया है. यह इंडेक्स कारपोरेट ब्रांड मूल्यांकन को रेखांकित करता है.

Mukesh Ambani को इतना स्कोर
एएनआई के मुताबिक, ब्रांड फाइनेंस इंडेक्स में रिलायंस चेयरमैन मुकेश अंबानी को 81.7 का BGI स्कोर मिला है, जो अमेरिकी टेक दिग्गज एनवीडिया के जेन्सेन हुआंग से ठीक नीचे है, उनका स्कोर 83 है. इस स्कोर के साथ हुआंग दुनिया में पहले नंबर पर हैं. ब्रांड गार्जियनशिप इंडेक्स और ब्रांड गार्जियनशिप रैंकिंग 1,000 मार्केट एनालिस्ट के द्वारा किए गए सर्वे के आधार पर तैयार की गई है.

टॉप-10 लिस्ट में भारतीयों का बोलबाला
इस इंडेक्स में जहां भारतीय बिजनेस टायकून मुकेश अंबानी दुनिया में दूसरे और इंडिया में पहले स्थान पर रहे हैं. वहीं इस लिस्ट में अन्य भारतीय सीईओ का भी दबदबा देखने को मिला है. टॉप-10 में सबसे ज्यादा नाम भारवंशियों के हैं. Adobe के शांतनु नारायण चौथे, Google के सुंदर पिचाई पांचवें स्थान, डेलाय के पुनीत राजन छठे, Tata Group के चेयरमैन नटराजन चंद्रशेखरन आठवें स्थान पर हैं. इंडेक्स में महिंद्रा एंड महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन Anand Mahindra को 23वां स्थान मिला है.

मुकेश अंबानी ने रिलायंस को नई दिशा दी
Mukesh Ambani ने रिलायंस ग्रुप को एक नई दिशा देते हुए शिखर पर पहुंचाने का काम किया है. आज Reliance Industries भारत की सबसे वैल्यूएबल कंपनी है और इसका मार्केट कैप 17 लाख करोड़ रुपये से ज्यादा है. इसके साथ ही मुकेश अंबानी लगातार अपने कारोबार का विस्तार कर रहे हैं. रिटेल सेक्टर वे सबसे ज्यादा फोकस कर रहे हैं.