नकली पुलिस अधिकारी बनकर तीन दिनों तक खरीदता रहा सोना, चेक बाउंस होने के बाद मैनेजर को हुआ शक

0
196

बिलासपुर। छत्तीसगढ़ के शहर बिलासपुर में खुद को पुलिस अधिकारी बताते हुए जेवर लूट लिए। नकली पुलिस अधिकारी बनकर आरोपी पहले ज्वेलरी शोरूम में पहुंचा और सोने की चेन खरीदने की बात कहीं।

खुद को एसपी बताते हुए आरोपी ने दुकानदार से अपनी पत्नी के लिए सोने की चेन खरीदने की बात कही। आरोपी ने एक दिन नहीं बल्कि अलग-अलग दिनों में दुकानदार को अपना ठगी का शिकार बनाया। उसने अलग-अलग दिनों में तीन सोने की चेन खरीदी और भुगतान चेक से किया। लेकिन बाद में नकद देने का बहाना करके मैनेजर प्रकाश शर्मा को बैंक में चेक लगाने से मना कर दिया।

मैनेजर को हुआ शक

जब आरोपी ने नकद देने का बहाना करके बैंक में चेक लगाने से मना किया तो प्रकाश शर्मा को शक हो गया और उसने बैंक में चेक लगा दिया। बाद में जब चेक बाउंस हुआ तो वो समझ किया उसके साथ ठगी हुई है। उसने तुरंत इसकी सूचना पुलिस को दी और तारबाहर थाने में शिकायत दर्ज कराई।

बता दें कि पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। प्रकाश अनोपचंद तिलोकचंद ज्वेलर्स के एटी ज्वेलर्स में मैनेजर के रूप में काम करते हैं। उन्होंने पुलिस को अपनी शिकायत में बताया कि 9 नवंबर को एक व्यक्ति उनके शोरूम में पहुंचा और आरोपी ने अपना नाम योगेंद्र अनंत बताया। आरोपी ने खुद को कार्यालय में पदस्थ पुलिस अधिकारी बताया और सोने की चेन खरीदने की बात कही।

जालसाज ने 15.740 ग्राम सोने की चेन खरीदी। इसके लिए उसने मैनेजर को 87 हजार 838 रूपये का चेक दिया। इसके बाद वह फिर 23 नवंबर को शोरूम में आया। मैनेजर को अपनी बातों में उलझाकर उसने 24 ग्राम वजन की चेन ले ली। इसके दूसरे दिन उसने 23 ग्राम वजनी सोने की चेन ली। इसके लिए एक लाख 33 हजार 686 रूपये और एक लाख 36 हजार रूपये का चेक दिया। उसने मैनेजर को बैंक में चेक लगाने से मना किया था। साथ ही जल्द ही नकद रकम देकर चेक ले जाने की बात कहता रहा।

जालसाज 29 नवंबर तक मैनेजर से मोबाइल पर बात करता रहा। इसके बाद उसने फोन उठाना बंद कर दिया। धोखाधड़ी की आशंका पर मैनेजर ने दो चेक बैंक में लगाए। दोनों चेक बाउंस हो गए। मैनेजर ने इसकी शिकायत तारबाहर थाने में की है। इस पर पुलिस शिकायत दर्ज कर मामले की जांच कर रही है।