बड़े टेंडर दिलाने के नाम पर फर्जी वकील हुआ गिरफ्तार, साथी के साथ मिलकर कर चुके हैं करोड़ों की ठगी

0
195

रायपुर : पुलिस ने देर रात एक फर्जी वकील को गिरफ्तार किया है। यह वकील छत्तीसगढ़ समेत दुसरे राज्यो के करीब 150 लोगो को टेंडर दिलाने के नाम पर करोडो रूपयो की ठगी को अंजाम देकर फरार था। पुलिस के मुताबिक फर्जी वकील देवनारायण सिन्हा को गिरफ्तार किया गया है। आरोपी अपने साथी सूरज विश्वकर्मा के साथ मिलकर लोगो को दिल्ली, महाराष्ट्र, उडीसा में बड़े टेंडर दिलवाने का झांसा देकर करोडो रूपये ठगी करके फरार था।

कई लोगों ने दर्ज करवाई थी शिकायत

बताया जा रहा है कि आरोपी फर्जी वकील देवनारायण सिन्हा द्वारा ठगी के शिकार मनीष मिश्रा और शांतुनु मिश्रा समेत कई लोगो ने गंज थाने में अपहरण और अवैध वसुली की शिकायत भी दर्ज करवाई थी। उसके बाद भी आरोपी फर्जी वकील अपने साथी के सूरज विश्वकर्मा के साथ मिलकर देवपुरी स्थित रियो टॉवर में एक ऑफिस खोलकर लोगो के साथ फर्जीवाडा कर रहा था।

पुलिस ने जाल बिछाकर किया गिरफ्तार

पुलिस के मुताबिक भिलाई के इंजीनियर अनिल बंछोर ने टिकरापारा थाना में रिपोर्ट दर्ज करवाई कि दिल्ली में 20 करोड़ का टेंडर दिलवाने के नाम पर अभी तक 18 लाख रुपए ले चुका है, लेकिन कोई काम नही दिलवाया। जब पुलिस ने इस मामले की जांच की तो शिकायत सही पा जाने पर आरोपी को पूछताछ के लिए थीं बुलाया गया और गिरफ्तार कर लिया गया।

ऱोपी फर्जी वकील देवनारायण सिन्हा करीब 150 लोगों के साथ 10 करोड़ रुपए से ज्यादा की ठगी को अंजाम दे चुका है। फिलहाल टिकरापारा थाना पुलिस आरोपी वकील को गिरफ्तार कर उसके फरार साथी सूरज विश्नकर्मा की तलाश में जुटी है।