शराब घोटाला मामले में बड़े अफसर त्रिपाठी को ED ने किया अरेस्ट, रिमांड मिलते ही वकील ने कही बड़ी बात

0
272

रायपुर । शराब वितरण कंपनी सीएसएमसीएल के पूर्व एमडी अरुण पति त्रिपाठी को गिरफ्तार किया गया है। देर शाम इन्हें रायपुर की अदालत में पेश किया गया जहां विशेष न्यायाधीश अजय सिंह की अदालत में अरुण पति त्रिपाठी मामले में सुनवाई हुई। प्रवर्तन निदेशालय ने अरुण पति त्रिपाठी की 10 दिन की रिमांड की मांग की थी। कोर्ट ने तथ्यों को सुनने के बाद 3 दिन यानी कि 15 मई तक के लिए उन्हें ईडी की रिमांड पर भेज दिया है।

ED वकील सौरभ कुमार पांडे ने बताया कि हमने शराब नीति मामले में एपी त्रिपाठी को गिरफ़्तार किया है जो भारतीय टेलीकॉम सेवा में अधिकारी है। वे यहां आबकारी विभाग के विशेष सचिव के तौर पर तैनात हैं और छत्तीसगढ़ राज्य विपणन निगम लिमिटेड (CSMCL) के हेड भी हैं। उनके ख़िलाफ़ कुछ साक्ष्य थे जिसके तहत उनको गिरफ़्तार किया गया है। हमने इनके पास से एक लेपटॉप, मोबाइल बरामद हुआ जिसकी जांच की जाएगी।

इससे पहले दो हजार करोड़ के शराब घोटाले मामले में ईडी ने कारोबारी अनवर ढेबर, कारोबारी त्रिलोक ढिल्लो, नितेश पुरोहित को गिरफ्तार किया है । त्रिपाठी समेत सभी को 15 मई को पेश किया जाएगा।